लगता है दुल्हनों को गुटकाबाज-शराबी दुल्हे पसंद नहीं आ रहे, मंडप से लौटाई बारातें!

प्रतिकात्मक तस्वीर (Photo Credit : Pixabay.com)

शराब और गुटके की लत बुरी तो है ही, लेकिन समाज में इसे व्यापक स्वीकार्यता भी मिली हुई है। इसी लिये बड़ी संख्या में युवक नशा करते हैं। कई मामलों में तो शराब को स्टेटस सिंबल के रूप में भी देखा जाता है। दूसरी ओर शराबी और नशेड़ी पतियों के कारण टूटती-बिखरती शादियों के किस्से भी नई बात नहीं हैं। लेकिन पिछले कुछ समय से ऐसे में सुर्खियों में आने लगे हैं जब लड़कियों ने शराबी-नशेड़ी युवकों से संबंध बनाना ठुकराया हो।
उत्तरप्रदेश से ऐसे ही दो ताजा मामले सामने आये हैं। पहला मामला बलिया से प्रकाश में आया है। मिशरौली गांव की दु्हन और खेजूरी गांव के दुल्हे ही शादी शनिवार को होनी थी। शादी के लिये दुल्हा पहुंचा तो दुल्हन ने देखा कि उसका होने वाला पति शराब पीकर और गुटका खाते-खाते मंडप तक पहुंचा है। दुल्हन ने अपने जीवन का सबसे महत्वपूर्ण निर्णय ले लिया और मंडप में ही शादी से इंकार कर दिया। लड़की को समझाने का बहुत प्रयास किया गया लेकिन बात नहीं बनी। आखिर कार लड़के और लड़की वालों ने शादी कैंसिल कर दी और एक-दूसरों को दिये तोहफे वापस ले लिये। इस दौरान मेहमान भी अचंभित थे।
प्रतिकात्मक तस्वीर (Photo : IANS)
ऐसा ही एक दूसरा मामला विगत दिनों सामने आया जब वरमाला की विधि के बाद शराब के नशे में चूर दुल्हे ने दुल्हन को हाथ पकड़कर डांस करने के लिये खींचा। दुल्हन का माथा ठनका और उसने भी शादी से इंकार कर दिया। मामला पुलिस तक पहुंच गया और जब कोई बात नहीं बनी तो दोनों पक्षों को समझा-बुझाकर तोहफों की अदला-बदली कर ली गई। पुलिस ने भी इस दौरान युवती का पक्ष लेते हुए कहा कि यह उसका अधिकार है कि किससे ब्याह रचाये या न रचाये। 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें