अधिक भीड़ से बढ़ रही है हिल स्टेशनों की चिंता, मास्क नहीं पहनने वालों को अब होगा कडा दंड

(Photo Credit ; gujaratsamachar.com)

हर दिन बाहर के राज्यों से आ रही है 18 से 20 हजार गाडियाँ, बढ़ते यात्रियों से मुश्किल में सरकार

देश भर में जैसे ही कोरोना की दूसरी लहर के दौरान केस कम होने लगे तो सरकार ने कुछ नियंत्रणों में ढील देना शुरू किया। हालांकि सरकार द्वारा नियंत्रणों में ढील देने के बाद से ही सभी लोग घूमने के लिए निकल पड़े है। अधिकतर लोग सिमला, मनाली सहित के हिल स्टेशन पर निकल चुके है। कोरोना नियंत्रणों पर ढील देने के बाद से ही मानो इन सभी जगहों पर मानो एक मेला सा लग गया हो। 
इतनी भारी मात्रा में हुई भीड़ से खुद सरकार भी चौंक गई है। लोगों की बढ़ती भीड़ को देखते हुये सरकार को भी फिर से संक्रमण फैलने का डर लग रहा है। जिसके चलते स्थानिक सरकार द्वारा कड़े कदम उठाए जा रहे है। मनाली स्थानीय तंत्र द्वारा यह निर्णय लिया गया है कि अब से यदि कोई भी व्यक्ति मनाली में बिना मास्क के पकड़ा जाएगा उसे 5000 रुपए के दान या तो आठ दिन के जेल कि सजा होगी। 
उल्लेखनीय है जब से कोरोना के केसों में कमी आई है और हिमाचल प्रदेश में बाहर से लोगों को आने कि अनुमति मिली है, तब से हर दिन अन्य राज्य के कम से कम 18 से 20 हजार वाहन हिमाचल प्रदेश में दाखिल हो रहे है। बाहर से आने वाले यात्रियों के कारण अब हिमाचल प्रदेश पर भी कोरोना के बढ़ते संक्रमण का भय बढ़ने लगा है। मनाली और सिमला में सभी होटल फूल हो चुकी है। हालात ऐसे है कि बाज़ारों में पैर रखने की जगह तक नहीं है। सभी बाज़ारों में सोशल डिस्टेन्सिंग के नियमों की धज्जियां उड़ रही है। जिसके चलते अब स्थानीय तंत्र द्वारा नए नियम बनाए गए है। 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें