गुजरातः ई-संजीवनी के ऐप के जरिए घर बैठे डॉक्टरों से मार्गदर्शन और सलाह प्राप्त करें

ई-संजीवनी के ऐप

ई-संजीवनी का ओपीडी ऐप एंड्रॉइड मोबाइल पर डाउनलोड कर विभिन्न विशेषज्ञ डॉक्टरों की सेवाएं मुफ्त में प्राप्त कर सकते हैं

ई-संजीवनी का ओपीडी ऐप एंड्रॉइड मोबाइल पर डाउनलोड कर विभिन्न विशेषज्ञ डॉक्टरों की सेवाएं मुफ्त में प्राप्त कर सकते हैं
क्या विशेषज्ञ चिकित्सक वह भी घर बैठे विषय के स्पेश्याल्सिट से मुफ्त परामर्श प्राप्त करना संभव है? हाँ,  भारत सरकार ने ई-संजीवनी-सेफ होम ओपीडी ऐप के जरिए यह संभव किया है। कोरोना संक्रमण तेजी से फैल रहा है, तो घर पर रहना एक बड़ी सुरक्षा है, इसलिए सरकार द्वारा शुरू किए गए इस ऐप के माध्यम से व्यक्ति को क्लिनिक में जाने और डॉक्टर से परामर्श करने की कोई आवश्यकता नहीं है। घर बैठे विशेषज्ञों का लाभ उठाकर दवा प्राप्त की जा सकती है। डॉक्टर की सलाह के तुरंत बाद ई-पर्चे मोबाइल में आ जाएंगे। जिसे दवा की दुकान पर वैध माना जाएगा।
इस सेवा का लाभ उठाने के लिए, किसी भी एंड्रॉइड मोबाइल पर ई-संजीवनी का ओपीडी ऐप डाउनलोड करना होगा। फिर मोबाइल को पहले ओटीपी से सत्यापित करना होगा। फिर मरीज का रजिस्ट्रेशन फॉर्म भरना होगा। यदि कोई स्वास्थ्य रिकॉर्ड हैं, तो उन्हें अपलोड करना होगा। रोगी आईडी और टोकन एसएमएस के माध्यम से प्राप्त किया जाएगा।
अब आपको मोबाइल नंबर और टोकन का उपयोग करके लॉगिन करना होगा। फिर आप वर्चुअल वेटिंग रूम में प्रवेश करते हैं। जो आपको दिखाएगा कि लाइन में कितने नंबर हैं। जैसे ही आपका नंबर आएगा, कॉल नाउ बटन सक्रिय हो जाएगा जो वीडियो कॉल शुरू करेगा। डॉक्टर आपके मोबाइल की स्क्रीन पर उपस्थित होंगे और आप सीधे कॉल‌िंग के माध्यम से डॉक्टर की सलाह और मार्गदर्शन प्राप्त कर सकेंगे। कॉल के तुरंत बाद ई-पर्चे मोबाइल पर आ जाएंगे। जिसे दवा दुकानों पर वैध माना जाएगा।
इस तरह कोई भी नागरिक आसानी से विशेषज्ञ चिकित्सक का परामर्श प्राप्त कर सकता है। ऐप पर किसी विशेषज्ञ की सेवाओं का भी लाभ उठाया जा सकता है। डेंटल, डर्मेटोलॉजिस्ट, ईएनटी, जनरल मेडिसिन, जनरल सर्जरी, ऑप्थल्मोलॉजी, ऑर्थोपेडिक्स, पीडियाट्रिक्स, साइकियाट्री आदि की सेवाओं का लाभ नि: शुल्क उठाया जा सकता है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें