गुजरात : EVM मशीन न हम बनाते हैं, न कमलम् में बनती हैं!, उपमुख्यमंत्री नीतिन पटेल की कांग्रेस को दो-टूक

(Photo Credit : Facebook.com/NitinbhaiPatelbjp)

पंजाब में जीतने पर नहीं निकाला EVM का दोष, लंबे समय तक सत्ता में नहीं आ सकती काँग्रेस

स्थानीय निकाय चुनावों के परिणाम आ चुके हैं और भाजपा ने 6 नगर निगमों, जिला पंचायतों, तालुका पंचायतों और नगर पालिकाओं में शानदार जीत हासिल की है। वहीं दूसरी ओर कांग्रेस का पूरी तरह से सफाया हो गया है। विधानसभा में विपक्ष के नेता परेश धनानी और प्रदेश अध्यक्ष अमित चावड़ा ने चुनाव में कांग्रेस की करारी हार के कारण अपने पदों से इस्तीफा दे दिया था और यहां तक कि इस्तीफे के समय, ईवीएम के कारण हार होने का संदेह व्यक्त किया। अब यह मुद्दा विधानसभा तक पहुंच गया है। अमित चावड़ा द्वारा ईवीएम पर सवाल उठाने पर राज्य के उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल ने कांग्रेस को करारा जवाब दिया था।
खुद नहीं बनाते ईवीएम, नहीं हैं कोई करखाना
इस मुद्दे पर नितिन पटेल ने कहा, "हम खुद ईवीएम नहीं बनाते हैं, ना ही वह कमलम में बनते हैं। भाजपा का कोई अपना कारखाना नहीं है। जब आप पंजाब में EVM से जीते, तो आपने कुछ नहीं कहा और अब जब आप गुजरात में हार गए, तो आप EVM को दोष देने लगे हैं। आप विजेता को बधाई नहीं दे पा रहे और अब अपनी हार को पचा नहीं पा रहे। आप अपनी हार का ठीकरा हर बार एक बेजान मशीन ईवीएम पर फोड़ते हैं। फ़िलहाल तो कांग्रेस के लिए यह रात अंटार्कटिका की रात है और अब कोग्रेस लंबे समय तक सत्ता में नहीं आने वाली।
चुनाव प्रचार के समय की प्रतिक्रिया और चुनाव के परिणाम विपरीत : अमित चावडा
अपना इस्तीफा देते समय अमित चावड़ा ने कहा कि मंदी और महंगाई के कारण लोगों में सरकार के लिए आक्रोश है, किसानों में गुस्सा है, युवा बेरोजगार है और वे सरकार के प्रति गुस्से में है। पूरे चुनाव प्रचार में जिस तरह से हमारा स्वागत किया गया और हमने अपने कार्यकर्ताओं की मेहनत के आधार पर कुछ अच्छे नतीजों की उम्मीद की थी। जनता के जनादेश को हम स्वीकार करते हैं। लेकिन चुनाव प्रचार के समय हमें मिली प्रतिक्रिया और चुनाव के परिणाम काफी विपरीत हैं।
गौरतलब है कि जब भी चुनाव का परिणाम कांग्रेस के पक्ष में नहीं होता तब कांग्रेस ईवीएम मशीन पर संदेह प्रकट करती है लेकिन चुनाव जीत जाने पर ईवीएम पर संदेह नहीं किया करते।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें