पूर्व मुख्यमंत्री मनमोहन सिंह की तबीयत बिगड़ी, एम्स में हुये भर्ती

(Photo : IANS)

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की मंगलवार को अचानक तबीयत बिगड़ गई। सांस लेने में दिक्कत और लगातार सीने में दबाव की शिकायत के साथ उन्हें तत्काल प्रभाव से अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) के सीएन टावर में भर्ती कराया गया है, जहां उनका इलाज चल रहा है। एम्स डॉ. मनमोहन सिंह की जांच के लिए एक मेडिकल बोर्ड बना रहा है, जिसके अध्यक्ष एम्स के डॉक्टर रणदीप गुलेरिया होंगे।
उल्लेखनीय है कि इसी साल मनमोहन सिंह 19 अप्रैल को कोरोना वायरस से संक्रमित भी हुए थे। उन्हें एम्स में भर्ती कराया गया था। उन्हें हल्का बुखार होने के बाद कोरोना वायरस का पता चला था। पूर्व प्रधानमंत्री ने 4 मार्च और 3 अप्रैल को कोरोना वैक्सीन की दो खुराक लीं। डॉ. मनमोहन सिंह कांग्रेस के वरिष्ठ नेता हैं और वर्तमान में राजस्थान से राज्यसभा के सदस्य हैं। वह 2004 से 2014 तक देश के प्रधानमंत्री रहे। 
भारत के 14वें प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह एक विचारक और विद्वान के रूप में जाने जाते हैं। उनका जन्म अविभाजित भारत के पंजाब प्रांत के एक गांव में 26 सितंबर 1932 को हुआ था। उन्होंने 1948 में पंजाब यूनिवर्सिटी से मैट्रिक की पढ़ाई पूरी की। इसके बाद उन्होंने यूके में कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय में आगे की शिक्षा प्राप्त की। 1957 में उन्होंने अर्थशास्त्र में प्रथम श्रेणी ऑनर्स की डिग्री प्राप्त की। फिर 1962 में उन्होंने ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी, नफिल्ड कॉलेज से अर्थशास्त्र में डी.फिल किया। 1971 में डॉ. मनमोहन सिंह वाणिज्य मंत्रालय में आर्थिक सलाहकार के रूप में शामिल हुए। 1972 में, उन्हें वित्त मंत्रालय का मुख्य आर्थिक सलाहकार नियुक्त किया गया।
डॉ. मनमोहन सिंह 1991 से 1996 तक भारत के वित्त मंत्री रहे। अपने राजनीतिक जीवन के दौरान, मनमोहन सिंह 1991 से भारतीय संसद के ऊपरी सदन, राज्यसभा के सदस्य थे, जहाँ वे 1998 से 2004 तक विपक्ष के नेता थे। उन्होंने 2004 के आम चुनाव के बाद 22 मई 2004 को प्रधान मंत्री के रूप में शपथ ली और 22 मई 2009 को दूसरी बार प्रधान मंत्री बने।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें