तालिबान का लोगों में बढ़ रहा डर, पासपोर्ट ऑफिस के बाहर लग रही है हजारों की भीड़

(Photo Credit : gujaratsamachar.com)

देश को छोडने के मन बनाए कई लोग कर रहे है पासपोर्ट और वीजा के लिए आवेदन, नहीं मान रहे देश में रहना सुरक्षित

पिछले कई समय से अमेरिका और नाटो की सेना के अलावा तालिबान के बढ़ते प्रभाव और आधिपत्य से अफ़्घानिस्तान के नागरिकों में काफी भय फ़ेल गया है। तालिबान के बढ़ते प्रभाव के कारण अधिक से अधिक लोग अफ़्घानिस्तान छोडकर जाना चाहते है। जिसके चलते काबुल के पासपोर्ट कार्यालय के बाहर भाई भीड़ देखने मिल रही है। पासपोर्ट की लाइन में खड़े लोगों का कहना है की बिगड़ती हुई परिस्थिति को देखते हुये उन्हें किसी भी समय देश छोडकर जाना पड़ सकता है। 
उल्लेखनीय है कि पिछले कई समय से अफ़ग़ानिस्तान के ग्रामीण इलाकों में तालिबान अपने पैर पसार रहा है। जिसके चलते प्रजा में काफी डर का माहौल फैला हुआ है और यही कारण है कि कई लोग अब अफघानिस्तान को छोडकर देश के बाहर जाना चाहते है। पासपोर्ट ऑफिस के बाहर काम करने वाले एक पुलिस कर्मचारी ने मीडिया से बात करते हुये बताया कि आम तौर पर यहाँ 2000 लोगों की भीड़ होती है, पर पिछले कई दिनों से यहाँ 10 हजार से भी अधिक लोग आवेदन करने के लिए आ रहे है। 
प्रजा का कहना है कि देश में रहना अब खतरे से खाली नहीं है। क्योंकि कई इलाकों में तालिबानियों द्वारा नाय टैक्स भी वसूलना शुरू कर दिया गया है। देश के सरहद पर आए जिले स्पिन पर कब्जा जमा कर अब तालिबानी अफघानिस्तान में आने वाले या पाकिस्तान जाने वाले सभी सामानों पर टैक्स लिया जा रहा है। इसके पहले अमेरिकी सैन्य की वापसी होने पर तालिबान के प्रतिनिधि मंडल के मुल्ला अब्दुल गाणी बरादर चीन के विदेश मंत्री वांग यी से मिले थे। जहां उन्होंने चीन की सुरक्षा के खिलाफ कोई भी हरकत नहीं होने का आश्वासन दिया था। 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें