बुजुर्ग सोशल मीडिया पर अनजान लड़कियों से दोस्ती के चक्कर में ना पड़े, हनीट्रेप का ये किस्सा जान लें

प्रतिकात्मक तस्वीर

दो-धरी तलवार है सोशल मीडिया, चौकन्ना रहने की जरुरत

आज कल हर कोई सोशल मीडिया पर एक्टिव रहना पसंद करता है। सोशल मीडिया पर रहना, पोस्ट-कमेंट करना और अनजाने लोगों से दोस्ती करना आजकल बहुत आम बात है पर कभी कभी मामला उल्टा पड़ जाता है और सोशल मीडिया पर अनजान लोगों से दोस्ती के उलटे परिणाम झेलने पड़ते हैं। ऐसा ही एक मामला भावनगर में सामने आया है जहाँ हिलड्राइव विस्तार के एक सेवानिवृत्त बैंक कर्मचारी को फेसबुक के जरिए हनीट्रैप में फंसा कर लूट लिया गया।
जानकारी के अनुसार, भावनगर के एक बैंक सेवानिवृत्त कर्मचारी नीलकंठ भट्ट को दो महीने पहले फेसबुक पर एक युवती की रिक्वेस्ट आई, जिसे एक्सेप्ट करने के बाद दोनों के बीच बातचीत शुरू हो गई। दो महीने बातचीत करने के बाद पारुल नाम की युवती ने 14 तारीख को कॉल करके नीलकंठ को एक निश्चित जगह पर मिलने बुलाया। नीलकंठ जब अगले दिन निश्चित जगह पर पहुंचे तो वहां युवती के साथ एक गेस्ट हाउस में समय बिताया। गेस्ट हाउस से निकलते ही गेस्ट हाउस के बाहर एक सात सीटर गाड़ी खड़ी थी जिसमें 2 युवक बैठे थे।
नीलकंठ और युवती भी उसी गाड़ी में बैठ गए और गाड़ी बरवाला की ओर चल दी। थोड़ी दूर जाने के बाद गाड़ी में बैठे युवकों ने बैंक कर्मचारी से पैसों की मांग की और कहा कि अगर वह उनकी बात नहीं मानते तो उन पर बलात्कार का आरोप लगाकर पुलिस में शिकायत करेंगे। इसके बाद जब नीलकंठ को समझ आ गया कि वो एक हनीट्रैप के शिकार हुए है तो उन्होंने आरोपियों से गुजारिश की। पहले जहाँ आरोपियों ने दस लाख की मांग की थी वहीं अंत में मामला 4 लाख पर निश्चित हुआ। अगले दिन नीलकंठ में आरोपियों को पैसे दे दिए पर जब बात आगे बढ़ने लगी तो परिवार वालों ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई। पुलिस ने आवश्यक जानकारी लेकर मामले की जाँच शुरू कर दी।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें