कारोबार : एलन मस्क के एक फैसले ने डुबाए इस अमेरिकी फार्मा कंपनी के अरबो रूपये

मस्क के पैसों के बदले ब्लू टिक देने वाले स्कीम से दिग्गज अमेरीकी फार्मा कंपनी एली लिलि को बहुत भारी नुकसान उठाना पड़ा

दुनिया के सबसे बड़े कारोबारी एलन मस्क ने ट्विटर को अपने कब्जे में लेते ही कुछ कड़े फैसले लिए। उनमें से एक है ट्विटर पर ब्लू टिक या अधिकारिक अकाउंट रखने के लिए पैसे लेना। मस्क ने ऐलान किया कि जिस किसी भी भी अपना ब्लू टिक बचाना है या ब्लू टिक लेना है तो उसे एक निश्चित शुल्क, अंदाजन $8 चुकाना होगा। अब मस्क के इस एक फैसले से दिग्गज अमेरीकी फार्मा कंपनी एली लिलि को बहुत भारी नुकसान उठाना पड़ा। इस कंपनी के 1,223 अरब रुपये डूब गए। इसी कारण से फिलहाल कंपनी को अपना फैसला वापस लेना पड़ा है।

क्या है मामला


आपको बता दें कि  मस्क के फरमान के अनुसार कोई भी व्यक्ति ट्विटर को मासिक आठ डॉलर देकर किसी के नाम से ब्लू टिक ले सकता था। इसका फायदा उठाते हुए किसी ने इंसुलिन बनाने वाली इस कंपनी के नाम पर ब्लू टिक ले ली और फिर इस फर्जी अकाउंट से ट्वीट कर दिया कि ‘अब इंसुलिन फ्री’ में मिलेगी। बस फिर क्या था, इसके बाद कंपनी के शेयर लगातार औंधे मुंह गिरने लगे। अमेरिकी फार्मा कंपनी Eli Lilly के नाम पर भी एक फर्जी अकाउंट ने पैसे देकर ब्लू टिक लिया और मुफ्त वाला ट्वीट कर दिया। इस ट्वीट के बाद कंपनी के स्टॉक में 5 फीसदी तक गिरावट आई और कंपनी का मार्केट कैप लगभग 15 बिलियन डॉलर कम हो गया। जैसे ही इस फर्जी ट्वीट की जानकारी मिली तो Eli Lilly ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से खंडन जारी किया।

ट्विटर पर फर्जी खातों की संख्या बढ़ी


गौरतलब है कि मस्क के इस सब्सक्रिप्शन स्कीम के बाद से फर्जी अकाउंट्स की बाढ़ आ गई है। कई बड़ी हस्तियों के फर्जी अकाउंट बनाए गए हैं। जो ट्विटर पहले सरकारी संस्थाओं, मशहूर हस्तियों और मंच द्वारा सत्यापित पत्रकारों को ही ब्लू बैज प्रदान करती थी। इसे मंच पर नकली या फर्जी खातों को रोकने के लिए शुरू किया था। अब एलन मस्क के ट्विटर की कमान संभालने के बाद किसी को भी पैसे के एवज में ब्लू बैज दे रही है। बस इसके लिए उपयोगकर्ता को प्रति माह आठ डॉलर का भुगतान करना होगा।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें