मंकीपॉक्स से बचने WHO की ये है सलाह; पुरुषों के साथ यौन संबंध बनाने वाले पुरुष अपने पार्टनरों की संख्या कम करें!

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के महानिदेशक टेड्रोस एडनॉम घेबियस ने बुधवार को पुरुषों को सलाह दी कि पुरुषों के साथ यौन संबंध रखने वाले पुरुषों में मंकीपॉक्स का प्रकोप बढ़ रहा है और ऐसे में पुरुषों को अपने यौन साथियों की संख्या कम करनी चाहिये।
डबल्यूएचओ की सलाह में यहां तक कहा गया है कि न सिर्फ पुरुष अपने यौन साथियों (पुरुषों) की संख्या कम करें बल्कि नए भागीदारों के साथ यौन संबंध पर पुनर्विचार करें। साथ ही जिनके साथ भी यौन संबंध बनाएं तो उनकी कॉन्टेक्ट डिटेल एक दूसरे के साथ साझा करें,‌ जिससे जरूरत पड़ने पर फॉलो-अप हो सके।
घेब्रेयसस ने पुरुषों में कोविड की सघनता के आंकड़ों का खुलासा किया और कहा कि ऐसे 98 प्रतिशत मामले हैं और यही कारण है कि डब्ल्यूएचओ ने सिफारिश की है कि देश को बच्चों, गर्भवती महिलाओं और उन लोगों सहित अन्य कमजोर समूहों में संक्रमण के जोखिम को कम करने के लिए कार्रवाई करनी चाहिए। टेड्रोस ने यह भी कहा कि सभी देशों को पुरुषों के उस समुदायों का ध्यान रखना चाहिये जो पुरुषों के साथ यौन संबंध रखते हैं। हालांकि इन मामलों में मानवाधिकारों की रक्षा करने के लिए भी आगाह किया गया है। उन्होंने कहा कि भेदभाव पूर्ण रवैया भी किसी वायरस की तरह खतरनाक हो सकता है।
घेब्रेयसस ने कहा कि यदि दुनिया के देश मंकीपॉक्स के जोखिमों के प्रति गंभीरता दिखाये तो बीमारी को रोका जा सकता है। मुख्य रूप से यह वायरस त्वचा से त्वचा के संपर्क में आने, चादर या तौलिये जैसी वस्तुओं को छूने से भी फैल सकता है, जिनका उपयोग किसी मंकीपॉक्स पीड़ित व्यक्ति द्वारा किया गया हो। इतना ही नहीं चुंबन करने या आमने-सामने की बातचीत के माध्यम से भी यह बीमारी फैल सकती है। 
बता दें कि दुनिया के 78 देशों में अब तक 18 हजार मंकीपॉक्स के मामले दर्ज हुए है। इनमें से 70 प्रतिशत मामले यूरोप के देशों में हैं। 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें