आंधी-तूफान का कहर थमा, अब बढ़ेगी गर्मी : मौसम विभाग


मौसम विभाग का कहना है कि तूफान का सबसे खराब रहनेवाला असर अब खत्म हो गया है और आज से मौसम फिर गर्म रहनेवाला है।
Photo/Twitter

नई दिल्ली । देश में विगत तीन दिनों में आंधी-तूफान की आपदा ने जनजीवन अस्तव्यस्त कर दिया भारी जन और धन की हानि हुई। कुछ हिस्सों में तो आंधी-तूफान का जबरदस्त कहर देखने को मिला। पश्चिमी, मध्य और उत्तरी भारत में यह तूफान पश्चिमी विक्षोभ बनने से अरब सागर पर बन रही आद्रता और बंगाल की खाड़ी से आनेवाली पूर्वी हवाओं के टकराने के कारण यह तूफान आया। मौसम विभाग का कहना है कि तूफान का सबसे खराब रहनेवाला असर अब खत्म हो गया है और आज से मौसम फिर गर्म रहनेवाला है।

दिल्ली में क्षेत्रीय मौसम विभाग के प्रमुख बीपी यादव ने कहा, ‘दो तत्वों के बीच हुई टकराहट के कारण कई स्थानों पर बिजली गिरने की घटना हुई है। हालांकि, विक्षोभ के कारण धूल और आंधी का असर उतना खतरनाक नहीं रहा। धूल भरी हवा और आंधी कई हिस्सों में बंट जाने कारण मौत का आंकड़ा इतना अधिक रहा।’ यादव ने कहा कि तूफान का सबसे खतरनाक रहनेवाला दौर अब गुजर चुका है। उन्होंने यह भी कहा कि आज से ही पूर्वी भारत को छोड़कर देश के ज्यादातर हिस्सों में मौसम भी गर्म होने जा रहा है।

पीएमओ ने प्रधानमंत्री राहत कोष से तूफान और बिजली गिरने की घटनाओं में जान गंवाने वाले परिवारों को 2 लाख रुपये की आर्थिक मदद देने का ऐलान किया है। 50 हजार की रकम घायलों के इलाज के लिए भी दिए जाने का ऐलान किया गया है। राज्य सरकारों ने भी पीड़ित परिवारों के लिए राहत का ऐलान किया है। राजस्थान और मध्य प्रदेश सरकार ने मृतकों के परिवार को 4 लाख रुपये मुआवजे के तौर पर देने का ऐलान किया है। गुजरात सरकार ने 2 लाख रुपये मुआवजे का ऐलान किया है। मध्य प्रदेश में 21 लोगों की मौत आंधी-तूफान से हुई और 2 दर्जन से अधिक लोगों के घायल होने की खबर है। हालांकि, इस तूफान के कारण देश के कई हिस्सों में किसानों की फसल बर्बाद हो गई है खास तौर पर इंदौर और उज्जैन के इलाकों में।

– ईएमएस