कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और गुजरात के सीएम रूपाणी के बीच ट्विटर युद्ध


कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और गुजरात के सीएम विजय रूपाणी के बीच छिड़ा ट्विटर युद्ध आजकल चर्चा में है।
Photo/Twitter
वाइब्रेंट गुजरात को लेकर लगाए आरोप प्रत्यारोप

अहमदाबाद। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और गुजरात के सीएम विजय रूपाणी के बीच छिड़ा ट्विटर युद्ध आजकल चर्चा में है। दरअसल, वाइब्रेंट गुजरात समिट पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा सवाल उठाए जाने के बाद अब गुजरात के सीएम विजय रूपाणी ने इस बयान की आलोचना की है। राहुल द्वारा पेश तथ्यों को गलत बताते हुए रूपाणी ने उन्हें झूठ की मशीन बताया है और समिट को इस बार और सफल बताते हुए कुछ आंकड़े भी पेश किए हैं। वहीं राहुल गांधी के बयान के बाद से ही भाजपा के तमाम समर्थक उनके दावों पर सवाल खड़े कर रहे हैं।

दरअसल, रविवार को एक अंग्रेजी अखबार में छपी खबर के आधार पर राहुल गांधी ने गुजरात सरकार द्वारा आयोजित की जाने वाली वाइब्रेंट गुजरात इन्वेस्टर्स समिट पर सवाल खड़े किए थे। इस बारे में ट्वीट करते हुए राहुल ने लिखा था, ‘वाइब्रेंट गुजरात समिट से नाराज निवेशक अब पीएम (नरेंद्र मोदी) की अध्यक्षता में होने वाले इस कार्यक्रम से जुड़े नहीं रहना चाहते और उन्होंने इसमें शामिल ना होने का फैसला किया है।’ राहुल के इस ट्वीट के बाद से ही भाजपा के समर्थक लगातार इसकी आलोचना कर रहे थे, वहीं इस सोशल मीडिया वॉर में देर रात खुद सीएम रूपाणी भी कूद पड़े।

सुबह किए गए राहुल के ट्वीट पर प्रतिक्रिया देते हुए रूपाणी ने अपने ट्वीट में लिखा, ‘राहुल गांधी आप बेशर्म और झूठ बोलने वाले व्यक्ति हैं। इस बार वाइब्रेंट गुजरात में ज्यादा देश हिस्सा लेने जा रहे हैं, जिसके तथ्य यहां हैं।’ इस ट्वीट के साथ राहुल ने एक लिंक भी शेयर किया। रूपाणी के अलावा कई अन्य भाजपा समर्थकों ने भी राहुल के ट्वीट पर उनकी आलोचना की। एक अन्य ट्वीट में रूपाणी ने राहुल को संबोधित करते लिखा, आपके ट्वीट की भाषा बताती है कि आप गुजरात में हार के बाद से कितने हताश हैं और गुजराती लोग राज्य के प्रति आपकी नफरत को समझते हैं और इसीलिए लगातार आपकी सरकारों को नकार दिया गया है।

ज्ञात हो कि गुजरात में 18 जनवरी 2019 से 20 जनवरी 2019 तक वाइब्रेंट गुजरात इन्वेस्टर्स समिट का आयोजन होना है। सरकार का दावा है कि इस बार इस समिट में कुल 16 देशों के प्रतिनिधि हिस्सा ले रहे हैं, जबकि पिछले बार यह संख्या सिर्फ 10 थी। पूर्व में सीएम रहते खुद पीएम नरेंद्र मोदी ने गुजरात में ‘वाइब्रेंट गुजरात इन्वेस्टर्स समिट’ की श्रृंखला शुरू की थी, जिसके बार हर साल इसका आयोजन किया जाता है।

– ईएमएस