देश का भविष्य पीएम नरेन्द्र मोदी के हाथों में सुरक्षित : ज्योतिरादित्य सिंधिया


ज्योतिरादित्य सिंधिया बुधवार को कांग्रेस को अलविदा कहकर औपचारिक रूप से भाजपा में शामिल हो गये। नई दिल्ली में भाजपा कार्यालय में राष्ट्रीय अध्यक्ष जे पी नड्डा की उपस्थित में सिंधिया ने केसरिया धारण किया। बता दें कि मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह के साथ मुलाकात करने के बाद सिंधिया ने कांग्रेस से त्यागपत्र दे दिया था। उनके साथ मध्यप्रदेश के 22 विधायकों ने भी इस्तीफा दे दिया था। भाजपा में शामिल होते ही ज्योतिरादित्य सिंधिया को पार्टी ने राज्यसभा का उम्मीदवार बना दिया है।

भाजपा का दामन थामने के बाद पत्रकारों से बातचीत करते हुए ज्योतिरादित्य सिंधिया ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, गृहमंत्री अमित शाह और पार्टी अध्यक्ष जे पी नड्डा के प्रति आभार प्रकट किया। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी के हाथों में देश सुरक्षित है।

सिंधिया ने कहा कि कांग्रेस के जरिये जनसेवा का लक्ष्य पूरा नहीं हो पा रहा था। देश की वास्तविकताओं को स्वीकारना नहीं चाहती कांग्रेस। उन्होंने कहा कि कांग्रेस अब पहले वाली कांग्रेस नहीं रही।

सिंधिया ने यह भी कहा कि उनकी जीवन में दो तारीखें काफी महत्वपूर्ण हैं। एक जब उनके पिता की मौत हुई और दूसरा आज जब वे भाजपा में शामिल हुए हैं।

सिंधिया के भाजपा में प्रवेश पर मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि आज भारतीय जनता पार्टी और व्यक्तिगत रूप से उनके लिये आनंद का दिन है। आज मुझे राजमाता सिंधिया की याद आ रही है, जब ज्योतिरादित्स सिंधिया भाजपा परिवार में शामिल हुए हैं। पूरा सिंधिया परिवार अब भाजपा में आ गया है। सिंधिया परिवार के लिये जनता की सेवा करना ही राजनीतिक परंपरा रही है।

उधर ज्योतिरादित्य सिंधिया की भुआ और राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वसूंधरा राजे सिंधिया ने अपनी प्रतिक्रिया में कहा है कि यदि आज राजमाता साहेब जिंदा होतीं तो उन्हें काफी खुशी होती। उन्होंने सिंधिया के नाम संदेश में कहा कि उनकी हिम्मत की दाद देती हूं और अब एक ही टीम में होने से अच्छा लग रहा है।