कोच्चि में चलेगी देश की पहली वॉटर मेट्रो, 819 करोड़ की आएगी लागत


देश में जल्द ही आप वॉटर मेट्रो की भी सवारी कर सकते हैं, दिसंबर 2019 में यह सेवा शुरू हो सकती है।
Photo/Twitter

कोच्चि । देश में जल्द ही आप वॉटर मेट्रो की भी सवारी कर सकते हैं, दिसंबर 2019 में यह सेवा शुरू हो सकती है। कोच्चि मेट्रो रेल लिमिटेड ने पहले इस अप्रैल में चलाने की योजना बनाई थी लेकिन फिर इस अक्टूबर तक के लिए आगे बढ़ा दिया गया था। यह प्रॉजेक्ट जर्मन की मदद से तैयार होगा। केएमआरएल के डायरेक्टर एपीएम मोहम्मद हैनिश ने बताया कि जनवरी तक मेट्रो का टेंडर दे दिया जाएगा। मेट्रो एजेंसी एक एंटिग्रेटेड वॉटर ट्रांसपॉर्ट प्रॉजेक्ट शुरू कर रही है जिसकी लागत 819 करोड़ होगी। जर्मनी की कंपनी केएफडब्ल्यू में 582 करोड़ लगा रही है। हैनिश ने कहा कि जर्मनी के राजदूत प्रॉजेक्ट की प्रगति से बेहद खुश हैं। उन्होंने कहा कि भूमि अधिग्रहण का काम तेजी से शुरू हो गया है।

उन्होंने कहा, वॉटर स्टेशन तक पहुंचने के लिए बनाई जाने वाली सड़कों पर हमारा ध्यान है। पहले हम इन सड़कों को चौड़ी करने की तैयारी में है। इससे द्वीपों पर रहने वाले लोगों के जीवन स्तर में भी सुधार होगा। वॉटर मेट्रो से द्वीपों पर रहने वाले करीब 1 लाख लोगों को फायदा होगा। वर्तमान में योजना के अनुसार इस प्रॉजेक्ट में दो तरह की नाव होंगी। इन्हें फाइबर रेनफोर्स्ड प्लास्टिक से बनाया जाएगा। ये नाव इको-फ्रेंडली होंगी और बैटरी से चलेंगी। केएमआरएल ने चार कंपनियों को नौकाएं बनाने का ठेका दिया है। ये नौकाएं एक द्वीप से दूसरे द्वीप तक चलेंगी। 76 किलोमीटर की दूरी में 15 रूट पर नौकाएं चलाई जाएंगी।

– ईएमएस