गुजरात में सबसे बड़ी दिवाली 31 अक्टूबर को मनाई जाएगी : पीएम मोदी


प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज स्टैच्यू ऑफ यूनिटी का उल्लेख करते हुए कहा कि 31 अक्टूबर को गुजरात में सबसे बड़ी दिवाली मनाई जाएगी|
Photo/wikipedia.org

अहमदाबाद | प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज स्टैच्यू ऑफ यूनिटी का उल्लेख करते हुए कहा कि 31 अक्टूबर को गुजरात में सबसे बड़ी दिवाली मनाई जाएगी| पीएम मोदी सूरत के डायमंड किंग द्वारा 600 कर्मचारियों को दिवाली बोनस में कार गिफ्ट किए के समारोह को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए संबोधित कर रहे थे|

पीएम मोदी ने कहा कि मैं जल्द ही गुजरात आ रहा हूं और सरदार वल्लभभाई पटेल की विश्व की सबसे ऊंची प्रतिमा स्टैच्यू ऑफ यूनिटी का लोकार्पण करूंगा| जिससे सरदार के विचार और संस्कार दुनियाभर में फैलेंगे| उन्होंने कहा कि आगामी 31 अक्टूबर को गुजरात में सबसे बड़ी दिवाली मनाई जाएगी और प्रत्येक गुजराती को अब गर्व से देखा जाएगा|

बता दें कि दक्षिण गुजरात में सरदार सरोवर बांध के निकट साधू बेट बनी स्टेच्यू ऑफ यूनिटी का प्रधानमंत्री आगामी 31 अक्टूबर को लोकार्पण करेंगे| प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का यह ड्रीम प्रोजेक्ट है, जिसका ऐलान उन्होंने गुजरात के मुख्यमंत्री रहते हुए 2010 में किया था और 2013 में स्टैच्यू ऑफ यूनिटी की आधारशिला रखी थी|

(Photo: IANS)

प्रधानमंत्री ने सूरत के हरि कृष्ण कंपनी के कर्मचारियों को संबोधित करने से पहले सवजीभाई धोलकिया की उनके कार्यों के लिए प्रशंसा की| उन्होंने कहा कि धोलकिया जिस प्रकार हर दिवाली को अपने कर्मचारियों को जो तोहफा देते हैं, वह वाकई प्रशंसनीय कार्य है| इससे कर्मचारियों में उत्साह बढ़ता है और वह पूरी निष्ठा और लगन से काम करते हैं| धोलकिया की तारीफ करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि न्यू इंडिया के विकास में सवजीभाई धोलकिया का अहम योगदान है|

सूरत की प्रशंसा करते हुए मोदी ने कहा कि सूरत की दुनिया अलग है| सूरत के लोग खान-पान और मौज-मस्ती के लिए जाने जाते हैं| डायमंड की दुनिया की बात आने पर सबसे पहले हरि कृष्ण कंपनी का नाम सबसे पहले याद किया जाता है| सवजीभाई वास्तव में उमदा कार्य कर रहे हैं और उसकी वजह से आज देश में उनकी चर्चा है| पीएम मोदी ने कहा कि मैं सवजीभाई धोलकिया परिवार समेत कंपनी कर्मचारियों का अभिनंदन करता हूं|

बता दें कि सवजीभाई ढोलकिया 2011 से हर साल कर्मचारियों को इसी तरह के दिवाली बोनस देते रहे हैं। 2015 में उनकी कंपनी ने अपने कर्मचारियों को दिवाली बोनस के तौर पर 491 कार और 200 फ्लैट बांटे थे। 2014 में भी कंपनी ने कर्मचारियों के बीच इन्सेंटिव के तौर पर 50 करोड़ रुपये बांटे थे।

हरि कृष्ण कंपनी ने गुरुवार को अपने 600 कर्मचारियों को सेलेरियो और क्विड कार तथा 900 कर्मचारियों को बैंक एफडी गिफ्ट की है| प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज दिल्ली में कंपनी के चार कर्मचारियों को कार चाबी सौंपी| जिसमें एक दिव्यांग कर्मचारी भी शामिल है| इस मौके पर पीएम मोदी ने वीडियो कांफ्रेंस के जरिए सूरत में हरि कृष्ण कंपनी के कर्मचारियों को संबोधित किया|

गौरतलब है सवजीभाई ढोलकिया अमरेली जिले के दुधाला गांव के मूल निवासी हैं। जिन्होंने अपने चाचा से कर्ज लेकर हीरा कारोबार शुरू किया और अपनी मेहनत से उसे इस मुकाम तक पहुंचाया। अरबपति होने के बावजूद उन्होंने हाल ही में अपने बेटे द्रव्य को पैसे की अहमियत की सीख देने के लिए सिर्फ 7 हजार रुपये के साथ कोची शहर में खुद की दम पर रोजी-रोटी कमाने भेजा था। एमबीए कर चुके बेटे को अपने पैरों पर खड़े होने की कला सीखने के लिए उन्होंने ऐसा किया था।

– ईएमएस