द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर फिल्म के ट्रेलर को भाजपा ने कांग्रेस के खिलाफ किया इस्तेमाल


पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के राजनीतिक जीवन पर आधारित फिल्म 'द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर' का ट्रेलर लॉन्च हो गया है।
Photo/Twitter

नई दिल्ली। पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के राजनीतिक जीवन पर आधारित फिल्म ‘द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ का ट्रेलर लॉन्च हो गया है। इसे लेकर विवादों का सिलसिला भी शुरू हो गया है। एक ओर जहां युवा कांग्रेस इस फिल्म को प्रदर्शित किए जाने के पहले देखने की मांग कर रही है, वहीं भाजपा ने इसके ट्रेलर को कांग्रेस पर हमला बोलने का राजनीतिक हथियार बना लिया है।

द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर का ट्रेलर गुरूवार को लॉन्च किया गया। इस ट्रेलर को भाजपा ने अपने ट्विटर अकाउंट पर शेयर कर न सिर्फ फिल्म का एक तरह से प्रचार किया है, बल्कि भाजपा ने कांग्रेस पर जोरदार हमला बोला है।

भाजपा ने ‘द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ का ट्रेलर ट्वीट कर लिखा- इस ट्रेलर की कहानी बताती है कि कैसे एक परिवार ने दस सालों तक देश को बंधक बनाकर रखा। क्या डॉ मनमोहन सिंह सिर्फ इसलिए तब तक पीएम की कुर्सी पर बैठे थे, जब तक उनका राजनीतिक उतराधिकारी तैयार न हो जाए? देखें इनसाइडर्स एकाउंट पर आधारित द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर का ट्रेलर, जो 11 जनवरी को रिलीज हो रही है।

उल्लेखनीय है कि इस फिल्म को लेकर अब विवाद पैदा हो गया है। यूथ कांग्रेस के महाराष्ट्र के प्रदेश अध्यक्ष सत्यजीत टाम्बे ने फिल्म के प्रोड्यूसर और डायरेक्टर को पत्र लिखकर अपनी आपत्त‍ि दर्ज कराई है। इसे रिलीज से पहले दिखाने को कहा है। यह फिल्म पूर्व प्रधानमंत्री के मीडिया सलाहकार रहे संजय बारू द्वारा लिखी गई इसी नाम की किताब पर आधारित है।

दरअसल, फिल्म का ट्रेलर करीब 2।43 मिनट का है। ट्रेलर की शुरुआत मनमोहन सिंह की भूमिका निभा रहे अनुपम खेर से होती है। संजय बारू का किरदार अक्षय खन्ना निभा रहे हैं। ट्रेलर में कई डायलॉग ऐसे हैं, जो कांग्रेस के खिलाफ में जाती दिख रही हैं। संजय बारू की भूमिका निभा रहे अक्षय खन्ना बोलते हैं- मुझे तो डॉ। साहब (मनमोहन सिंह) भीष्म जैसे लगते हैं। जिनमें कोई बुराई नहीं है, पर पारिवारिक ड्रामा के शिकार हो गए हैं। महाभारत में दो परिवार थे, इंडिया में तो एक ही है।

‘द एक्सीडेंटल प्राइम म‍निस्टर’ 11 जनवरी को रिलीज हो रही है। इस ट्रेलर को जिस तरह से भाजपा ने अपने ऑफिशियल ट्विटर हैंडल पर जगह दी है, उससे लगने लगा है कि लोकसभा चुनाव के दौरान यह फिल्म चर्चा में रहने वाली है और इसी के बहाने भाजपा कांग्रेस पर हमला करेगी। यह फिल्म मनमोहन सिंह के प्रधानमंत्री के रूप में 10 साल के कार्यकाल पर केंद्रित है।
– ईएमएस