आईबी अफसर अंकित की हत्या केस के आरोपी ताहिर हुसैन गिरफ्तार, खुद को बताया निर्दोष


नई दिल्ली (ईएमएस)। राजधानी दिल्ली हुई हिंसा के दौरान मारे गए आईबी अफसर अंकित की हत्या के आरोपी ताहिर हुसैन को पुलिस ने सरेंडर करने से पहले गिरफ्तार कर लिया है। वह कोर्ट में जमानत याचिका डालने के लिए पहुंचा था जहां दिल्ली पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया।

इससे पहले ताहिर ने एक टीवी चैनल को दिए इंटरव्यू में बताया कि वह निर्दोष हैं और वह नार्को टेस्ट के लिए भी तैयार हैं। टीवी चैनल को दिए इंटरव्यू में ताहिर ने खुद को बेगुनाह बताया। उन्होंने बताया कि मुझ पर गलत आरोप लगाए जा रहे हैं। अंकित की हत्या पर उन्होंने कहा, ‘जांच के बाद ही उनकी मौत का कारण पता चलेगा। मैं खुद उसकी मौत से बहुत दुखी हूं। मैं उस वक्त वहां पर नहीं था। मेरे परिवार का भी कोई वहां नहीं था। मैं 24 तारीख को ही पुलिस को घर सौंपकर चला गया था। यह पूरी वारदात 25 तारीख को हुई।’ ताहिर ने कहा कि इतने दिनों तक उनका परिवार के साथ किसी भी तरह का संपर्क नहीं था। उन्हें अपने परिवार के बारे में कोई जानकारी नहीं है। ताहिर ने कहा, ‘मुझे देश के कानून पर भरोसा है। मैं निर्दोष साबित होऊंगा, यह मुझे पूरा यकीन है।’

ताहिर ने कहा कि वह इस मामले में बेगुनाह हैं। मैं नार्कों टेस्ट के लिए भी तैयार हूं। इतने दिन कहां थे पर ताहिर ने कहा कि दिल्ली और आसपास ही वह छिपे थे। वकील से सलाह लेने के बाद वह सरेंडर करने जा रहे हैं। उनका कहना है कि घर में जबरन लोग घुस आए थे। बता दें कि नॉर्थ ईस्ट दिल्ली में हिंसा के दौरान ताहिर के घर का एक वीडियो सामने आया था। इसमें उनकी छत से पेट्रोल बम फेंके जा रहे, पत्थरबाजी हो रही थी। बाद में पुलिस को उनके घर से भारी मात्रा में पत्थर, पेट्रोल बम और गुलेल बरामद की गई थीं।

उत्तर-पूर्वी दिल्ली के कई इलाकों में 24-25 फरवरी को भड़की हिंसा में दिल्ली पुलिस अपराध शाखा ताबड़तोड़ गिरफ्तारियां करने में जुटी है। बुधवार तक 1647 लोग गिरफ्तार और हिरासत में ले लिए गए। हिंसा को लेकर अलग-अलग थानों में अब तक 531 एफआईआर दर्ज की जा चुकी हैं। इनमें से 47 मामले सिर्फ शस्त्र अधिनियम के हैं। जबकि गिरफ्तार होने वाले और हिरासत में लिए गए लोगों की संख्या 1647 पहुंच गई है।