ग्रामीण विकास मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर देगें 228 राष्ट्रीय अवार्ड


Image Credit : Twitter/nstomar

नई दिल्ली । ग्रामीण विकास मंत्रालय के विभिन्न कार्यक्रमों को वर्ष २०१७-१८ के दौरान लागू करने में राज्यों, जिलों, प्रखंडों, संगठनों और व्यक्तिगत तौर पर किए गए असाधारण कार्यों की पहचान और भविष्य में कार्यक्रमों के बेहतर क्रियान्वयन एवं प्रदर्शन हेतु उनमें स्वस्थ प्रतियोगिता की भावना पैदा करने के लिए ग्रामीण विकास मंत्रालय ११ सितंबर, २०१८ को एक राष्ट्रीय पुरस्कार कार्यक्रम आयोजित कर रहा है जिसमें ग्रामीण विकास मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर पुरस्कार प्रदान करेंगे।

ग्रामीण विकास मंत्रालय विभिन्न प्रमुख कार्यक्रमों जैसे ग्रामीण रोजगार एवं संपदा सृजन के लिए महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना (एमजीएनआरईजीएस), ग्रामीण आवास के लिए प्रधानमंत्री आवास योजना-ग्रामीण (पीएमएवाई-जी), गांवों में सड़क निर्माण के लिए प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना (पीएमजीएसवाई), ग्रामीण आजीविका के लिए दीनदयाल अन्त्योदय योजना- राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन (डीएवाई-एनआरएलएम), ग्रामीण युवाओं के कौशल विकास के लिए दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल योजना (डीडीयू जीकेवाई), राष्ट्रीय रर्बन मिशन इत्यादि चला रहा है जिनका उद्देश्य गरीबी उन्मूलन हैं।

वर्ष २०१७-१८ के दौरान ग्रामीण इलाकों में प्रधानमंत्री आवास योजना-ग्रामीण के तहत ४४.५४ लाख घरों का निर्माण किया गया जिनमें सबसे ज्यादा घर उत्तर प्रदेश में बनाए गए। मध्य प्रदेश ने वर्ष २०१७-१८ के दौरान प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत जिन सड़कों का निर्माण किया उनकी कुल लंबाई अन्य राज्यों की तुलना में सबसे अधिक है। यही नहीं, राज्य ने हरित तकनीक के इस्तेमाल से भी सबसे अधिक सड़कें बनाई। पश्चिम बंगाल और आंध्र प्रदेश का वर्ष २०१७-१८ के दौरान एमजीएनआरईजीएस के तहत अभिसरण एवं आजीविका वृद्धि वर्ग में बेहतर प्रदर्शन रहा जबकि मिजोरम का तय समय में कार्य पूरा करने का प्रतिशत सबसे अधिक रहा हैं।