वाघा सीमा से पाकिस्तान वापस लौटा शाहरुख की दीवानगी में भारत आया युवक


फिल्म अभिनेता शाहरुख खान से मिलने की चाहत में एक पाकिस्तानी युवक बिना पासपोर्ट और वीजा से भारत आ गया।
Photo/Twitter

नई दिल्ली। फिल्म अभिनेता शाहरुख खान से मिलने की चाहत में एक पाकिस्तानी युवक बिना पासपोर्ट और वीजा से भारत आ गया। भारत आने पर उसे पकड़ लिया गया। अब उसे एक साल बाद जेल से रिहा किया गया है। वह जेल से तो मुक्त हो गया है, लेकिन उसे इस बात का अफसोस है कि वह बालीवुड के बादशाह शाहरुख खान से नहीं मिल पाया।

बुधवार को अब्दुल्ला शाह नाम के इस पाकिस्तानी को भारत से वाघा-अटारी बॉर्डर से वापस पाकिस्तान भेज दिया गया। अब्दुल्ला ने बताया वह अटारी-वाघा बॉर्डर पर रिट्रीट समारोह देखने 2017 में आया था। समारोह खत्म होने के बाद वह जीरो लाइन क्रॉस करके भारत आ गया।

वह शाहरुख खान का बहुत बड़ा फैन है। बचपन से ही उसकी तमन्ना थी कि वह उनसे मिले। इसी जुनून में वह बिना पासपोर्ट और वीजा से भारत आ गया और यहां पकड़ा गया। उसे जेल भेज दिया गया था।

अब्दुल्ला ने बताया कि वह स्वात घाटी के भिंगोरा का रहने वाला है। वह जेल में रहने के बाद भी उसका शाहरुख से मिलने का जुनून कम नहीं हुआ है। उसे दुख है कि वह उनसे नहीं मिल सका। उसने बताया कि वह अब भी शाहरुख से मिलना चाहता है और वह फिर से भारत आएगा ताकि अपने चहेते फिल्मी सितारे से मिल सके।

साजिश और धोखाधड़ी करने सहित विभिन्न आरोपों में भोपाल जेल में 10 साल की सजा काटने के बाद करांची के 40 वर्षीय मोहम्‍मद इमरान वारसी को भी आज उसके वतन पाकिस्‍तान भेजा दिया गया। उसे वाघा बॉर्डर पर पाकिस्तान के अधिकारियों को सौंपा गया है। सॉफ्टवेयर इंजीनियर हामिद निहाल अंसारी (33) के पाकिस्तान की जेल में छह साल रहने के बाद अपने वतन भारत लौटने के करीब एक हफ्ते बाद इमरान वारसी को उसके वतन में भेजा जाएगा।

– ईएमएस