रेल यात्रियों को राहत, अब कनेक्टिंग ट्रेन छूटने पर वापस मिलेगी पूरी रकम


नए वित्तीय वर्ष 1 अप्रैल से रेलवे के नियम में एक बड़ा बदलाव होने जा रहा है। रेलवे यात्रियों के लिए एक नई सुविधा की शुरुआत कर रहा है।
Photo/Twitter

नई दिल्ली। नए वित्तीय वर्ष 1 अप्रैल से रेलवे के नियम में एक बड़ा बदलाव होने जा रहा है। रेलवे यात्रियों के लिए एक नई सुविधा की शुरुआत कर रहा है। रेलवे अब अपने यात्रियों के लिए संयुक्त पैसेंजर नेम रिकॉर्ड जारी करेगा।

इसे ऐसे समझें कि अगर आप एक ट्रेन से यात्रा के बाद दूसरी ट्रेन में सफर करेंगे तो इन दोनों यात्राओं के लिए आपको एक ही पीएनआर जारी किया जाएगा। इस नए नियम के आने से अगर पहली ट्रेन लेट होने के कारण अगली ट्रेन छूट जाती है तो उन्हें अगली यात्रा का पूरा पैसा रिफंड मिलेगा। दोनों टिकटों में यात्री की जानकारी एक जैसी होनी चाहिए, इसके साथ ही पहली ट्रेन में यात्री का गंतव्य स्टेशन और कनेक्टिंग ट्रेन का बोर्डिंग स्टेशन एक होना चाहिए। काउंटर से लिए टिकट कैंसिल करवाने के लिए अगर कोई काउंटर नहीं है तो आप तीन दिन में टीडीआर फाइल कर सकते हैं। रेलवे ने इसके लिए नया फॉर्म भी जारी किया है। जो कि जल्द ही सभी स्टेशनों पर उपलब्ध होंगे ये नियम सभी क्लास पर लागू होंगे।

– ईएमएस