एसपीजी पर राहुल गांधी की टिप्पणी ‘निराधार’ : सरकार


नई दिल्ली । सरकार ने विशेष सुरक्षा समूह (एसपीजी) के पूर्व प्रमुख विवेक श्रीवास्तव को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा लगाए गए आरोपों को सोमवार को ‘निराधार’ बताया। राहुल ने आरोप लगाया है कि श्रीवास्तव ने इसलिए नौकरी छोड़ी, क्योंकि उन्होंने आरएसएस द्वारा चुने गए एसपीजी अधिकारियों की सूची स्वीकारने से इंकार कर दिया था।

गृह मंत्रालय द्वारा जारी एक बयान में कहा गया है, “मामले की सत्यता जांची गई है। एसपीजी के पूर्व निदेशक विवेक श्रीवास्तव ने कहा है कि राहुल गांधी के साथ किसी भी समय उनकी इस तरह की कोई बातचीत नहीं हुई है।”

मंत्रालय ने बयान में कहा, “अधिकारी ने कहा है कि पेशेवर ड्यूटी के हिस्से के रूप में उन्होंने एसपीजी सुरक्षा प्राप्त लोगों के साथ बातचीत की थी। हालांकि उन्होंने कहा कि गांधी के साथ उनकी बातचीत के दौरान नए निदेशक या उनके एसपीजी छोड़ने के कारणों से संबंधित कोई बात नहीं हुई थी।”

बयान में कहा गया है, “एसपीजी एक पेशेवर संगठन है, जो अपनी सेवाएं प्रधानमंत्री, पूर्व प्रधानमंत्री और उनके परिवारों को बहुत गंभीरता और उच्च पेशेवर भावना के साथ सुरक्षा प्रदान करता है। मीडिया के माध्यम से गांधी द्वारा कथित रूप से की गई टिप्पणी निराधार, तथ्य रहित और दुर्भाग्यपूर्ण है।”

-आईएएनएस