मंत्रोच्चार के बीच मोदी की संगम में डुबकी, सफाईकर्मियों के पैर धुलाकर लिये आशीर्वाद


प्रयागराज (ईएमएस)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रयागराज पहुंच कर कुंभ मेले में न केवल संगम में डुबकी लगाई बल्कि सफाईकर्मियों के पैर धुलाकर आशीर्वाद भी लिया। पीएम के साथ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी हैं। संगम त्रिवेणी में आस्था की डुबकी लगाने के बाद पीएम मोदी ने पवित्र संगम पर मंत्रोच्चार के बीच पूजा अर्चना भी की। साथ ही उन्होंने त्रिवेणी संगम में दुग्धाभिषेक किया।

मोदी ने लगाई संगम में डुबकी

 

कुंभनगरी में पहुंचे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने त्रिवेणी के संगम में डुबकी लगायी और वैदिक रीतरिवाज से पूजा अर्चना की। उन्होंने गंगा मां का दुग्धाभिषेक करने के बाद आरती उतारी। इस मौके पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी मौजूद थे।

स्वच्छमाग्रहियों ने पैर धोए

इसके बाद पीएम ने पांच स्वच्छाग्रहियों (तीन पुरुष, दो महिलाओं) यानी सफाईकर्मियों के पैर धुलकर, उनका आशीर्वाद लिया। सफाई कर्मचारियों के पैर धुलकर पीएम मोदी ने उनके पैर पोछे और उन्हें एक शॉल भी भेंट की। इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उनसे उनका हालचाल भी जाना और कुंभ में स्वच्छता की व्यवस्था को देखते हुए उन्हें धन्यवाद दिया।

 

पीएम मोदी ने कहा,

कुंभ के कर्मयोगियों में साफ सफाई कर रहे स्वच्छाग्रही भी शामिल हैं, जिन्होंने अपने प्रयासों से कुंभ के विशाल क्षेत्र में हो रही साफ सफाई को दुनिया में चर्चा का विषय बना दिया है।’

लोकसभा चुनाव से पहले पीएम मोदी का यह प्रयागराज दौरा काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है। इससे पहले प्रधानमंत्री मोदी गोरखपुर पहुंचे। यहां पर उन्होंने किसान सम्मान निधि योजना लॉन्च की और किसानों के खाते में 2000 रुपए की पहली किश्त भी जारी की।

यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ के गढ़ गोरखपुर से मोदी ने विपक्ष पर किसान विरोधी होने के तगड़े आरोप भी जड़े। प्रधानमंत्री ने कहा कि कृषि ऋण में छूट की सीमा एक वर्ष से बढ़ाकर 3 से 5 वर्ष कर दी गई है। अगर किसान कर्ज का भुगदान समय पर करते हैं तो उन्हें ब्याज दर में तीन प्रतिशत का अतिरिक्त छूट मिलेगा। अब किसान भाई, किसान क्रेडिट कार्ड के जरिए 1 लाख 60 हजार रुपए तक का कर्ज, बिना बैंक गारंटी ले पाएंगे।