आज हमारे पास राफेल विमान होता न हमारा कोई विमान गिरता और न कोई उनका विमान बचताः पीएम मोदी


पीएम ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि देश इस बात पर सहमत है कि आतंक का अंत किया जाना चाहिए।
Photo/Twitter

पीएम ने सवाल उठने वालों से कहा, सेना कहती हैं उसपर भी भरोसा नहीं

जामनगर । लोकसभा चुनाव के तारीखों की घोषणा से पहले दो दिवसीय गुजरात दौरे पर पहुंचे पीएम नरेंद्र मोदी ने एयर स्‍ट्राइक पर सवाल उठाने वालों को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि मैं आपसे पूछना चाहता हूं कि जो सेना कहती है तो क्‍या उस पर आपका भरोसा नहीं है? हमें अपनी सेना पर गर्व होना चाहिए। पीएम ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि देश इस बात पर सहमत है कि आतंक का अंत किया जाना चाहिए। इसके साथ ही कहा कि यदि भारतीय वायुसेना के पास आज रफाल विमान होता तो परिणाम कुछ और होता। यदि कुछ लोग इस नहीं समझना चाहते तो मैं कुछ नहीं कर सकता। पीएम मोदी ने कहा कि मैंने कहा था कि अगर राफेल समय पर मिल जाता तो स्थिति अलग होती, लेकिन उन्होंने कहा कि मोदी हमारी वायु सेना के हवाई हमले पर सवाल खड़े कर रहे है। पीएम मोदी ने कहा कि अगर हवाई हमले के दौरान राफेल हमारे पास होता, तो न हमारा कोई विमान गिरता और न उनका कोई विमान बचता। आतंकवाद की बीमारी की जड़ पड़ोसी देश में है, क्या हमें बीमारी का इलाज जड़ से नहीं करना चाहिए। अगर भारत को तबाह करने की मंशा रखने वालों के ‘सरगना’ बाहर हैं, तो यह देश शांत नहीं बैठेगा।

इस मौके पर जामनगर में कई विकास परियोजनाओं की आधारशिला रखने के साथ पीएम मोदी ने कहा कि अब गुजरात पानीदार बन गया है। ऐसा इसकारण क्‍योंकि यहां पानी के प्रश्नों का सबसे पहले निराकरण किया गया। आज से 40 साल पहले अगर सरदार सरोवर डेम का काम पूरा हो गया होता तो गुजरात को पानी की समस्या भुगतनी नहीं पड़ती। गुजरात छोडने के बाद भी मैं सिंचाई योजना के लिए चिंतित था। नर्मदा का पानी, पानी नहीं पारस है। इसके साथ पीएम मोदी ने कहा कि मै जो करता हूं, बड़ा ही करता हूं। जैसे अभी आरोग्य क्षेत्र में बहुत बड़ी क्रांति का काम शुरू किया है। मुझे छोटा अच्छा नहीं लगता। आयुष्‍मान भारत योजना दुनिया की सबसे बड़ी योजना है। आयुष्‍मान योजना, मुख्यमंत्री अमृतम योजना से जन कल्याण हुआ है।

पीएम मोदी ने कहा गांधी जी ने 100 साल पूर्व स्वच्छता का सपना देखा था, 100 साल में जो कोई न कर सका वहां हमारी सरकार ने कर दिखाया। कुंभ मेला में स्वच्छता लोगों को छू गई। देश भर में रेलवे के काम में गति आई है। पीएम मोदी ने कहा कि समस्या का स्थायी समाधान हमारा मंत्र है। सबका साथ-सबका विकास हमारा मंत्र है। मोदी सरकार आने के बाद पहेली बार मछुआरों के लिए अलग मंत्रालय बना गया है। 2022 तक देश के हर नागरिक को अपने सपनों का घर मिलेगा। इस दौरान पीएम मोदी गलती से कोचीन की जगह कराची बोल गए, इस पर हल्‍के-फुल्‍के अंदाज में कहा क्‍या करूं आजकल दिमाग में एक ही बात चल रही है। लोग पीएम मोदी की बात सुनकर हंस पड़े।

– ईएमएस