पतंजलि को दिल्ली हाईकोर्ट से झटका, खातों का होगा स्पेशल ऑडिट


दिल्ली हाईकोर्ट ने बुधवार को योगगुरु बाबा रामदेव की पतंजलि आयुर्वेद को बड़ा झटका दिया है।
Photo/Twitter

नई दिल्ली। दिल्ली हाईकोर्ट ने बुधवार को योगगुरु बाबा रामदेव की पतंजलि आयुर्वेद को बड़ा झटका दिया है। आयकर विभाग द्वारा २०११ में दायर की गई एक याचिका पर हाईकोर्ट ने फैसला सुनाते हुए कहा है कि कंपनी को अपने सभी खातों का स्पेशल ऑडिट कराना होगा। कोर्ट ने कंपनी से कहा है कि वो इसके लिए आयकर आधिकारियों का सहयोग करे। आयकर विभाग ने कोर्ट के सामने तर्क रखा कि कंपनी का एक नहीं बल्कि बहुत सारे खाते हैं, जिसकी वजह से स्पेशल ऑडिट होना जरूरी है। ऐसा इसलिए क्योंकि कंपनी को कहां-कहां से आय होती है इसकी जानकारी केवल स्पेशल ऑडिट से ही मिल सकेगी। पतंजलि की बिक्री पिछले पांच साल में पहली बार गिर गई है। जीएसटी और कमजोर होते विपणन नेटवर्क की वजह से कंपनी की आय भी २०१३ के बाद मार्च २०१८ में समाप्त हुए वित्त वर्ष में १० फीसदी से ज्यादा गिरावट के साथ ८१४८ करोड़ रु रही। हालांकि इन सबके बावजूद कंपनी ने इस साल डेयरी और रेडीमेड गारमेंट सेक्टर में भी प्रवेश किया है।

धनतेरस के दिन दिल्ली के पीतमपुरा में पतंजलि ने अपना पहला ब्रांडेड कपड़ों का रिटेल स्टोर परिधान खोला था। इस स्टोर में ३००० तरह के कपड़ों की वैरायटी लेकर के आए हैं। इसमें किड्सवेयर, महिलाओं के परिधान, पुरुषों के सभी कपड़े, योगा वेयर, फेंसी ड्रेस शामिल होंगी। इस स्टोर में लंगोट से कोट तक और पार्टी वेयर कपड़े मिलेंगे। कपड़े भारतीय शैली को ध्यान में रखकर बनाए जाएंगे और यह पूरी तरह से स्वदेशी हैं। सूत्रों के अनुसार ४ लाख लीटर तरल दूध बाजार में बिक्री के लिए जारी किया जाएगा। धीरे-धीरे इसकी क्षमता में बढ़ोतरी की जाएगी। कंपनी की योजना अगले ६ महीने में इस कारोबार को ५०० करोड़ रु तक पहुंचाने की है।

दूध-दही से लेकर फ्रोजन मटर तक

कंपनी का दावा है कि सारे उत्पादों में किसी तरह की कोई मिलावट नहीं है और ग्राहकों को शुद्ध उत्पाद मिलेंगे। पतंजलि आर्युवेद के प्रवक्ता एस के तिजारावाला ने बताया कि लोगों को गाय का शुद्ध दूध और इससे बने उत्पाद अब बहुत ही कम दर पर मिलेंगे। कंपनी ने फ्रोजन मटर, अन्य कटी सब्जियां और फ्रेंच फ्राइज जैसे उत्पाद भी लांच किए हैं। डेयरी प्रॉडक्ट के अलावा कंपनी ने पशु आहार, दिव्य जल के नाम से बोतलबंद पानी और अन्य उत्पादों को लांच किया है। बाबा रामदेव ने कहा कि उन्होंने देश में कार्यरत अन्य सभी बड़ी कंपनियों को शीर्षासन करा दिया है। लांच से पहले बाबा रामदेव ने खुद गाय का बाल्टी में दूध निकाल कर दिखाया।

नए साल में आईपीओ लेकर आएगी पतंजलि

बाबा रामदेव ने कहा कि उनकी कंपनी १ महीने के अंदर अपना आईपीओ लेकर के आएगी, जिससे वो बाजार से पूंजी जुटा सके। बाबा रामदेव ने साथ ही अगले २ साल में देश की सबसे बड़ी एफएमसीजी कंपनी हिंदुस्तान यूनिलीवर को पीछे करने का लक्ष्य रखा है। इसके साथ ही वो २०२५ तक पतंजलि को विश्व की सबसे बड़ी एफएमसीजी ब्रांड बनने का लक्ष्य रखा है। बाबा रामदेव ने संकेत देते हुए कहा कि वो नए साल में एक ‘अच्छी खबर’ सभी को देंगे।

– ईएमएम