पर्रिकर सरकार अल्पमत में, हम दावा कर सकते हैं : कांग्रेस


पणजी। गोवा में नई सरकार बनाने के दावे के एक दिन बाद विपक्षी कांग्रेस ने मंगलवार को कहा कि ऐसा करना सही है, क्योंकि मनोहर पर्रिकर की अगुवाई वाली गठबंधन सरकार ‘पहले से ही अल्पमत में है।’

गोवा कांग्रेस के प्रवक्ता अलिक्सो रेजिनाल्डो ने कहा, “भाजपा की अगुवाई वाली गठबंधन सरकार अल्पमत में है। हमने राज्यपाल से मुलाकात का समय मांगा है। सरकार बनाने का दावा पेश करना हमारा अधिकार है।”

गोवा कांग्रेस के नेताओं के राज्यपाल मृदुला सिन्हा से मंगलवार को मिलने की उम्मीद है। सिन्हा दो दिवसीय दिल्ली दौरे से शाम को गोवा लौट रही हैं।

विपक्ष के नेता चंद्रकांत कवलेकर ने राजभवन जाकर राज्यपाल मृदुला सिन्हा के कार्यालय में सभी 16 कांग्रेस विधायकों द्वारा हस्ताक्षरित एक पत्र सौंपा है। पत्र में कहा गया है कि उन्हें नए चुनाव के लिए विधानसभा भंग नहीं करनी चाहिए।

मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर को दिल्ली में अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान में भर्ती कराया गया है। पर्रिकर का पैंक्रियाटिक कैंसर का इलाज चल रहा है। भाजपा आलाकमान पर्रिकर की गैरहाजिरी में विकल्प तलाशने में जुटी है। भाजपा के कुछ सहयोगी सरकार में बड़ी भूमिका की मांग कर रहे हैं और उनकी मुख्यमंत्री पद पर भी नजर है।

गोवा विधानसभा में कांग्रेस 16 विधायकों के साथ सबसे बड़ी पार्टी है। भाजपा के 14 विधायक हैं, और उसे गोवा फारवर्ड पार्टी के तीन और महाराष्ट्रवादी गोमांतक पार्टी के तीन विधायकों और एक राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के विधायक तथा तीन निर्दलीय विधायकों का समर्थन प्राप्त है।

लेकिन, इस नंबर गेम को भाजपा के तीन विधायकों का स्वास्थ्य बिगाड़ रहा है। पर्रिकर कैंसर से गंभीर रूप से पीड़ित हैं, शहरी विकास मंत्री फ्रांसिस डिसूजा वर्तमान में न्यूयॉर्क में कैंसर का इलाज करा रहे हैं, जबकि बिजली मंत्री पांडुरंग मडकइकर बीते कुछ महीनों से ब्रेनस्ट्रोक से पीड़ित हैं।

-आईएएनएस