पाकिस्तानी नौसेना का दावा, हमारे जल क्षेत्र में भारतीय पनडुब्बी ने की थी घुसने की कोशिश


पाकिस्तान की नौसेना ने दावा किया है कि भारतीय पनडुब्बी को अपने जल क्षेत्र में घुसने की कोशिश को नाकाम कर दिया।
Photo/Twitter

नई दिल्ली । भारत-पाकिस्तान बॉर्डर पर तनाव के बीच पाकिस्तान की नौसेना ने दावा किया है कि भारतीय पनडुब्बी को अपने जल क्षेत्र में घुसने की कोशिश को नाकाम कर दिया। नौसेना के प्रवक्ता ने दावा किया कि 2016 के बाद यह दूसरी घटना है जब किसी भारतीय पनडुब्बी ने पाकिस्तान के जल क्षेत्र में घुसने की कोशिश की। पाकिस्तान की तरफ यह दावा तब किया गया है जब भारतीय नौसेना के प्रमुख एडमिरल सुनील लांबा ने मंगलवार को समुद्र के रास्ते आतंकी घुसपैठ की आशंका जाहिर की थी। पाकिस्तानी नौ-सेना के प्रवक्ता ने बताया कि शांति कायम रखने के लिए नौसेना ने भारतीय पनडुब्बी को निशाना नहीं बनाया। इसके बाद साफ होता हैं कि हम शांति चाहते हैं। इस घटना से सीख लेकर भारत को भी शांति को लेकर अपना झुकाव दिखाना चाहिए। जारी वीडियो में एक पनडुब्बी का ऊपरी हिस्सा दिखाया जा रहा है जिसके भारतीय होने का दावा किया जा रहा है। यह वीडियो 4 फरवरी, रात 8:30 बजे के करीब रिकॉर्ड किया गया है।

प्रवक्ता ने बताया कि पाकिस्तानी नौसेना ने साबित किया है कि वो अपनी समुद्री सीमाओं की रक्षा करने में सक्षम है। और किसी भी तरह के आक्रामकता का जवाब देने के लिए तैयार है। हालांकि पाकिस्तान के दावे पर भारतीय नौसेना का कोई जवाब नहीं आया है। इससे पहले भारतीय वायुसेना के प्रमुख एडमिरल सुनील लांबा ने दावा किया था कि खुफिया रिपोर्ट के अनुसार आतंकी समुद्र के रास्ते भारत में घुसने की फिराक में हैं और बड़ी वारदात के लिए आतंकियों को प्रशिक्षण दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि चरमपंथी गुट आतंकी हमले की साजिश रहे हैं, लेकिन उन्हें मदद उस देश से मिल रही है जिसका मकसद भारत को अस्थिर रखना है। उल्लेखनीय है कि पुलवामा हमले के बाद भारतीय वायुसेना की जवाबी कार्रवाई के बाद दोनों देशों में तनाव कायम है। वायुसेना की एयर स्ट्राइक के बाद पाकिस्तान की वायुसेना ने भारतीय वायु क्षेत्र में घुसने का प्रयास किया था और कुछ सैन्य कैंप को निशाना बनाने की कोशिश भी की। हालांकि, भारतीय वायुसेना ने इसका मुंहतोड़ जवाब दिया जिसमें पाकिस्तान का एक एफ-16 लड़ाकू विमान मार गिराया गया जबकि भारत का मिग-21 क्षतिग्रस्त हो गया।

– ईएमएस