भारत पहुंचे वर्धमान का देश ने किया अभिनन्दन


पाकिस्तान के कब्ज़े से छूटकर भारत पहुंचे विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान का देश ने तहे दिल से अभिनन्दन किया।
(File Photo/Twitter)

बाघा बॉर्डर। पाकिस्तान के कब्ज़े से छूटकर भारत पहुंचे विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान का देश ने तहे दिल से अभिनन्दन किया। अभिनंदन ने बाघा बॉर्डर पर 9.21 मिनट पर पाकिस्तान की सीमा से भारत की सीमा में कदम रखा। पहले उनके दोपहर 2 बजे आने की रिपोर्ट्स आ रही थीं, लेकिन यह इंतजार धीरे-धीरे बढ़ता गया, बताया गया कि कागज़ी कार्यवाही में वक्त लगा। पाकिस्तानी वायुसेना ने अभिनंदन को सौंपे जाने का वक्त 2 बार बदला और कागजी कार्यवाही के नाम पर देरी की। उनको रिसीव करने उनके परिजन भी पहुंचे थे।
पाक विमानों की घुसपैठ को नाकाम करने के दौरान अभिनंदन का जेट पाक सीमा में क्रैश हो गया था। भारत ने बिना शर्त और सुरक्षित अभिनंदन की वापसी की मांग की थी। इसके बाद प्रधानमंत्री इमरान खान ने पाकिस्तान की संसद में गुरुवार को ऐलान किया था कि भारतीय पायलट को भारत को सौंपा जाएगा। हालांकि, एक ओर पाकिस्तान अमन के पैगाम के नाम पर अभिनंदन को वापस लौटा रहा है, दूसरी ओर उसकी सेना एलओसी पर लगातार फायरिंग कर रही है। इससे पहले भारत ने पाक से कहा था कि वह तत्काल और बिना शर्त अभिनंदन को रिहा करे। भारत ने पहले ही यह स्पष्ट कर दिया था कि अगर अभिनंदन की रिहाई के बदले पाक सौदेबाजी की उम्मीद कर रहा है तो यह उसकी बड़ी भूल होगी।

पूछताछ के बाद मिलेगी घर जाने की इजाजत

वायुसेना के रिटायर्ड जूनियर वारंट ऑफिसर भास्कर मिश्रा ने बताया, “वाघा बॉर्डर पर पहुंचने पर अभिनंदन की उनके परिवार से कुछ देर की ही भेंट होगी। सबसे पहले एयर फोर्स की टीम अभिनंदन का मेडिकल टेस्ट करेगी। जांच में अगर मिलता है कि पाक में उनके साथ कोई ज्यादती, टॉर्चर या फिजिकल हैरेसमेंट किया गया है तो इंटरनेशनल रेड क्रॉस सोसायटी उनकी जांच करेगी और इसके बाद इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस में पाकिस्तान के खिलाफ मुकदमा किया जाएगा।”

उन्होंने बताया, जांच करने के बाद अभिनंदन का बयान लिया जाएगा कि वहां उनके साथ क्या-क्या हुआ? उनसे वहां क्या पूछताछ हुई और क्या उन्होंने वहां सेना से जुड़ी कोई जरूरी जानकारी बताई? अगर अभिनंदन ने वहां कोई खुलासे किए होंगे, तो उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं होगी लेकिन उन्हें कभी वायुसेना का अध्यक्ष नहीं बनाया जाएगा। अगर जांच में सबकुछ ठीक निकलता है तो अभिनंदन को ड्यूटी ज्वाइन करने या फिर घर जाने की अनुमति होगी।

पाकिस्तान की ओर से गुरुवार को अभिनंदन की रिहाई के ऐलान के कुछ ही देर बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दिल्ली के विज्ञान भवन में शांति स्वरूप भटनागर पुरस्कार समारोह के दौरान स्पीच दे रहे थे। उन्होंने पाक का नाम लिए बगैर उस पर तंज कसा। प्रधानमंत्री ने कहा- “पायलट प्रोजेक्ट पूरा होने के बाद उसे बढ़ाया जाता है, तो अभी एक पायलट प्रोजेक्ट हुआ है। अब रियल करना है, पहले तो प्रैक्टिस थी।”
इससे पहले बुधवार को पाकिस्तान वायुसेना के तीन विमानों ने भारतीय वायु क्षेत्र का उल्लंघन किया था। वे यहां तीन मिनट तक रहे। पाक ने सैन्य प्रतिष्ठानों पर हमले की कोशिश की थी। वायुसेना ने घुसपैठ का जवाब देने के लिए 2 मिग-21 और 3 सुखोई-30 भेजे। मिग के पायलट ने एक पाकिस्तानी एफ-16 मार गिराया। हालांकि, इस दौरान हमारा एक मिग क्रैश हो गया, जिसके चलते पायलट विंग कमांडर अभिनंदन को पाकिस्तान ने बंदी बना लिया।

– ईएमएस