मंत्री अकबर पर लगे अारोपों को जांचने की जरूरत : शाह


(File Photo: IANS)

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि वह विदेश राज्यमंत्री एम.जे. अकबर पर टिप्पणी करने की स्थिति में नहीं हैं, क्योंकि केंद्रीय मंत्री के खिलाफ लगे आरोपों की जांच की जरूरत है। अकबर कई महिला पत्रकारों के यौन उत्पीड़न के आरोपों का सामना कर रहे हैं।

शाह ने शुक्रवार रात ईटीवी को दिए एक साक्षात्कार में कहा, “किसी चीज पर यूं ही टिप्पणी करना बहुत मुश्किल है, जो एक वेबसाइट पर छपा हो। कोई भी एक वेबसाइट पर कुछ भी डाल सकता है। इसलिए इसकी जांच की जरूरत है। चाहे वह सच हो या झूठ या फिर इस तरह की घटना हुई हो या नहीं।”

उन्होंने कहा, “यह देखना होगा कि क्या यह वही व्यक्ति है, जिसने आरोप लगाए हैं और जिसने इसे सोशल मीडिया पर डाला है। इन सभी चीजों को देखा जाएगा। और एक बार ऐसा करने के बाद हम इसके बारे में जरूर सोचेंगे (अकबर पर कार्रवाई)।”

एक दर्जन से ज्यादा महिला पत्रकारों ने अकबर पर उनके पत्रकारिता करियर के दौरान विभिन्न मौकों पर यौन उत्पीड़न और अनुचित व्यवहार के आरोप लगाए हैं। अकबर ने उस दौरान कई अखबार शुरू किए थे या उनके संपादक रहे थे।

-आईएएनएस