Swatchhata Hi Sewa : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने किया सफाई अभियान का आगाज़ (वीडियो)


प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (File Photo: IANS)

नई दिल्ली। स्वच्छता ही सेवा अभियान के तहत देश भर में सफाई को लेकर जागरूकता कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है। कार्यक्रम के ऑपचारिक उद्घाटन में मोदी ने कहा कि स्वच्छ भारत राष्ट्रपति महात्मा गांधी का सपना था और हमारा यह मिशन उसी सपने को पूरा करने का प्रयास है।

 

स्वच्छता ही सेवा अभियान के भाग स्वरूप प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने दिल्ली के पहाड़गंज इलाके में स्थित बाबा साहिब आंबेडकर हायर सेकन्डरी स्कूल परिसर में झाडू चलाकर सफाई की। इस बाबत का एक वीडियो जारी हुआ है। नरेन्द्र मोदी ने बाद में स्कूल के बच्चों से बातचीत भी की और उन्हें सफाई के महत्व के बारे में बताया।

उधर, केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने दिल्ली से सटे फरीदाबाद में सफाई अभियान में हिस्सा लिया। केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने बिहार के मीठापुर में आयोजित कार्यक्रम में हिस्सा लिया।

आगे पढ़िये, मोदी ने आईटीबीपी जवानों की सराहना करते हुए क्या कहा…

मोदी ने स्वच्छता अभियान का हिस्सा बनने के लिए आईटीबीपी जवानों को सराहा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्वच्छता अभियान का हिस्सा बनने और जरूरत की घड़ी में हमेशा मुस्तैद रहने को लेकर शनिवार को भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) जवानों की सराहना की।

मोदी ने 14 दिवसीय ‘स्वच्छता ही सेवा अभियान’ की शुरुआत करते हुए नमो एप के जरिए कहा, “मैं आईटीबीपी जवानों के प्रति सम्मान जाहिर करना चाहता हूं। चाहे सीमा पर आपकी जरूरत हो या आपदा की स्थिति..जरूरत की घड़ी में आप हमेशा मौजूद रहते हैं, इस मिशन का हिस्सा बनकर आपने देश को स्वच्छ बनाया है।”

यह 14 दिवसीय अभियान दो अक्टूबर तक चलेगा।

प्रधानमंत्री से संवाद करते हुए ईशा फाउंडेशन के सद्गुरु ने कहा,

आज स्वच्छता अभियान के प्रति लोगों का उत्साह देखा जा सकता है और इसे मैं अपनी यात्राओं के दौरान देखता हूं। इस दिशा में प्रोत्साहन की आवश्यक्ता है। कई बेहतरीन चीजें हुई हैं। यह अच्छी बात है कि प्रधानमंत्री इन चीजों केोबरे में बात कर रहे हैं। स्वच्छ भारत किसी सरकार या प्रधानमंत्री का अभियान नहीं है। यह राष्ट्र का अभियान है।

सद्गुरु ने इस बात का भी जिक्र किया कि कैसे दुनिया की सबसे पुरानी सभ्यताओं में से एक मोहनजोदड़ो की जल निकासी व्यवस्था को देख ब्रिटिश आश्चर्यचकित रह गए थे।

इससे पहले मोदी ने गुजरात के नागरिकों से संवाद करने के दौरान सहकारी सेक्टर के लोगों से भी स्वच्छता अभियान में सहयोग जारी रखने की अपील की।

प्रधानमंत्री ने कहा, “गंदगी से गरीबों की सेहत को नुकसान पहुंचता है। इससे वे बीमार पड़ते हैं। गंदगी के कारण डायरिया जैसी बीमारी होती है। हर साल इससे लाखों लोग मरते हैं और हमें इस खुश होना चाहिए कि स्वच्छता अभियान के चलते डायरिया से होने वाली मौतों में बड़ी कमी आई है।”

मोदी ने मध्य प्रदेश के राजगढ़ के लोगों से भी बात की और गोबर-धन योजना के लिए उनकी सराहना की।

आगे पढ़िये प्रधानमंत्री ने स्वच्छता अभियान में महिलाओं के योगदान पर क्या कहा…