स्वच्छ दुनिया के लिए मोदी का 4पी का मंत्र


(Photo: IANS)

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को कहा कि स्वच्छ भारत मिशन स्वच्छता पर दुनिया का सबसे बड़ा आंदोलन बन गया है। मोदी ने स्वच्छ दुनिया के लिए 4पी का एक मंत्र भी दिया।

चार दिवसीय गांधी अंतर्राष्ट्रीय स्वच्छता सम्मेलन के समापन सत्र में उन्होंने अपने संबोधन में कहा, “राजनीतिक नेतृत्व, सार्वजनकि धन, साझेदारी और लोगों की भागीदारी दुनिया को स्वच्छ बनाने के चार मंत्र हैं।”

मोदी ने कहा कि उन्होंने महात्मा गांधी से प्रेरणा ली और आंदलोन की शुरुआत करते हुए उनके दिशानिर्देशों का पालन किया।

मोदी ने यह बात गांधीजी की उस टिप्पणी पर की, जिसमें उन्होंने कहा था कि वह आजादी से ज्यादा स्वच्छता को प्राथमिकता देंगे।

मोदी ने कहा, “आज, मुझे बहुत गर्व है कि 125 करोड़ लोगों का हमारा देश गांधीजी के पदचिन्हों पर चल रहा है और स्वच्छ भारत मिशन दुनिया का सबसे बड़ा आंदोलन बन गया है।”

उन्होंने जोर देकर कहा कि स्वच्छ भारत मिशन ने लोगों के व्यवहार में परिवर्तन किया है। उन्होंने कहा कि 2014 में ग्रामीण स्वच्छता 38 फीसदी थी, जो बढ़कर अब 94 फीसदी हो गई है।

उन्होंने कहा, “पांच लाख गांव और 25 राज्य खुले में शौच से मुक्त हो चुके हैं।”

-आईएएनएस