विश्व भर में केवल ढोल नहीं और भी कई वाद्य यंत्र बजाए हैं मोदी ने


(Photo Credit : khabarchhe.com)

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी को सभी लोग उनकी राजनीतिक समझ और त्वरित निर्णय लेने वाले राजनीतिज्ञ के रूप में जानते हैं। 2014 में प्रधान मंत्री बनने के बाद लोग उनके संगीत के प्यार के बारे में भी जान गए हैं। प्रधान मंत्री के रूप में कई देशों की यात्रा के दौरान उन्होंने चीन से लेकर मंगोलिया तक के देशों के संगीत वाद्ययंत्र बजाए हैं।

(Photo Credit : khabarchhe.com)

यह तस्वीर चीन के वुहांग के हुबेई म्यूजियम की है। अपनी चीन यात्रा के दौरान, मोदी ने चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग के साथ इस संग्रहालय का दौरा किया। उस समय उन्होंने संग्रहालय में रखी ऐतिहासिक घंटियाँ बजाईं। ये घंटियाँ लकड़ी से बनी होती हैं और एक फ्रेम पर लटकाई जाती हैं। छोटी बड़ी मिला कर कुल 68 घंटियाँ हैं।

(Photo Credit : khabarchhe.com)

यह तस्वीर भारतीय राज्य मेघालय की है। मेघालय की अपनी यात्रा के दौरान स्थानीय कलाकारों के साथ अपनी मुलाकात के दौरान उन्होंने पारंपरिक ड्रम पर अपना हाथ आजमाया। अपने ड्रम बजाने की वजह से वह काफी समय तक चर्चा में रहे थे।

(Photo Credit : ibgnews.com)

त्रिपुरा में भी पीएम का संगीत प्रेम सामने आया। उन्होने त्रिपुरा के पारंपरिक वाद्य और ड्रम बजाए।

(Photo Credit : khabarchhe.com)

यह तस्वीर प्रधानमंत्री की 2014 की जापान यात्रा की है। एक प्रतियोगिता में मोदी ने एक स्थानीय कलाकार के साथ ड्रम पर ताल मिलाया। प्रतिभा को देखने के बाद मोदी का संगीत ज्ञान देखकर लोग चौंक गए।

(Photo Credit : khabarchhe.com)

जापान यात्रा के दौरान, प्रधान मंत्री मोदी को स्कूल के छात्रों के साथ सोपार्नो रिकॉर्डर बजाते देखा गया। बांसुरी जैसा दिखने वाला वाद्य जापान में बहुत लोकप्रिय है। मोदी ने स्कूल के छात्रों को भगवान श्रीकृष्ण की कहानी के बारे में भी अवगत कराया।

(Photo Credit : khabarchhe.com)

2015 में मंगोलिया की यात्रा के दौरान, मोदी ने स्थानीय त्यौहार मिनी नादम में जलतरंग जैसा दिखने वाला एक स्थानीय वाद्य योची बजाया था।

(Photo Credit : khabarchhe.com)

मंगोलिया में एक अन्य कार्यक्रम में मोदी वायलिन की तरह दिखता एक स्थानीय वाद्य यंत्र बजाया था।

(Photo Credit : khabarchhe.com)

उन्होंने जुलाई 2016 में तंजानिया दौरे के दौरान संगीत के प्रति अपने प्यार को भी उजागर किया। तंजानिया के राष्ट्रपति जोन मगुफुली के साथ उन्होने ड्रम पर अनोखी जुगबंदी की।

(Photo Credit : khabarchhe.com)

यह तस्वीर 2016 में राष्ट्रीय जनजातीय समारोह के उद्घाटन समारोह की है। जिसमें प्रधानमंत्री आदिवासी के पारंपरिक वेशभूशा में देखने मिले और आदिवासी कलाकारों के साथ ढोलक बजाते नजर आए।