मोदी ने बापू के पसंदीदा भजन का मिश्रित संस्करण लांच किया


(File Photo: IANS)

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को यहां महात्मा गांधी अंतर्राष्ट्रीय स्वच्छता कांफ्रेंस के समापन समारोह के मौके पर महात्मा गांधी के पसंदीदा भजन ‘वैष्णव जन तो तेने कहिए’ के मिश्रित वर्जन को लांच किया। इसे 40 देशों के कलाकारों ने मिलकर गाया है।

महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के अवसर पर एक वर्ष लंबे समारोह के अंतर्गत 124 देशों के कलाकारों ने संगीत से अपना योगदान दिया और गांधीजी को उनके पसंदीदा भजन के जरिए श्रद्धांजलि अर्पित की।

विदेश मंत्रालय ने एक बयान में कहा, “विदेशों में सभी भारतीय दूतावासों ने गांधी जयंती के अवसर पर भजन को रिकॉर्ड करने के लिए स्थानीय कलाकारों/समूहों की पहचान की। इसका फलस्वरूप क्षेत्र के स्थानीय फ्लेवर के साथ भजन की उदार, रंगीन व समृद्ध प्रस्तुति सामने आई।”

आर्मेनिया से अंगोला, श्रीलंका से सर्बिया, इराक से आईसलैंड तक के प्रसिद्ध गायकों/समूहों ने 15वीं शताब्दी के भजन गायन में अपनी प्रतिभा का जौहर दिखाया, जोकि गांधीजी के हृदय के करीब था।

कवि नरसिंह मेहता द्वारा लिखित भजन को महात्मा गांधी ने अपने दैनिक प्रार्थना में शामिल किया था।

बयान के अनुसार, “भजन को वैश्विक रंग देने के लिए विश्व के विभिन्न वीडियो का एकसाथ फ्यूजन किया गया है। इसमें संयुक्त राष्ट्र द्वारा मान्यता प्राप्त सभी देशों की ओर से संभवत: योगदान दिया गया।”

वीडियो के स्टार परफॉर्मर नौरु के राष्ट्रपति बेरोन दिवावेसी वाका रहे।

मंत्रालय ने कहा, “राष्ट्रपति वाका का भाव प्रदर्शन महात्मा गांधी की 150वीं जयंती पर उन्हें न केवल एक विशेष श्रद्धांजलि है बल्कि उनके द्वारा मोदी को दिया गया निजी उपहार भी है।”

मोदी ने यह भजन संयुक्त राष्ट्र महासचिव अंतानियो गुटेरस, विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और पेय जल व स्वच्छता मंत्री उमा भारती की मौजूदगी में लांच किया।

-आईएएनएस