प्रवासी श्रमिक आर्थिक विकास के लिए ‘महत्वपूर्ण’ : राहुल


(Photo: IANS/Congress)

नई दिल्ली। गुजरात में प्रवासी श्रमिकों पर हमलों के पीछे युवाओं के बीच बेरोजगारी को जिम्मेदार ठहराते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मंगलवार को कहा कि प्रवासी श्रमिक आर्थिक विकास के लिए ‘महत्वपूर्ण’ हैं और उनपर हो रहे हमलों को तुरंत रोका जाना चाहिए।

कांग्रेस अध्यक्ष ने फेसबुक पोस्ट में लिखा, “गुजरात भर में खराब आर्थिक नीतियां, नोटबंदी और गलत तरह से लाए गए वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) ने उद्योगों को तबाह कर दिया है, जिसके परिणामस्वरूप कारखाने और औद्योगिक इकाइयां बंद हो गई हैं, जिससे बड़े पैमाने पर बेरोजगारी पैदा हुई है।”

उन्होंने कहा कि नौकरियां पैदा करने में सरकार की अक्षमता के कारण युवाओं के बीच निराशा और क्रोध बढ़ रहा है।

उन्होंने कहा, “यह गुस्सा व निराशा पूरे गुजरात में प्रवासियों पर हिंसक हमलों के जरिए प्रकट की जा रही है। प्रवासी श्रमिक हमारे आर्थिक विकास के लिए महत्वपूर्ण हैं। उन पर हो रहे हमलों से भय और असुरक्षा का माहौल पैदा होता है, जो व्यापार और हमारी अर्थव्यवस्था के लिए अच्छा नहीं है।”

राहुल ने राज्य सरकार से निर्णायक कार्य करने और शांति व हर भारतीय की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए हरसंभव प्रयास करने का आग्रह किया।

राहुल ने यह टिप्पणी उत्तर भारत के प्रवासी श्रमिकों पर हमलों की घटनाओं के बीच की है, जो अहमदाबाद से लगभग 100 किलोमीटर दूर स्थित हिम्मतनगर कस्बे के निकट एक गांव में 14 माह की एक बच्ची का दुष्कर्म होने के बाद शुरू हुई है।

पुलिस ने इस अपराध के लिए बिहार के एक मजदूर रविंद्र साहू को गिरफ्तार किया है। साहू एक चीनी-मिट्टी के कारखाने में काम करता था।

-आईएएनएस