मेहबूबा मुफ्ती ने एग्जिट पोल के अनुमानों पर क्या बयान दिया


(Photo Credit : zeenews.com)

2019 के लोकसभा चुनावों की मतगणना में अभी कुछ ही समय बाकी है, लेकिन एग्जिट पोल के नतीजों से संकेत मिल रहा है कि एक बार फिर प्रधानमंत्री मोदी भारत में सरकार बनाने जा रहे हैं। इन परिणामों से विपक्ष में डर फैल गया है और इसलिए ईवीएम पर हमला शुरू हो गया है। इसी क्रम में जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने ईवीएम की सुरक्षा पर कुछ सवाल उठाए हैं।

महबूबा मुफ्ती ने ट्वीट किया कि ईवीएम बदले जाने की मजबूत रिपोर्ट मिल रही है, लेकिन अभी तक चुनाव आयोग ने स्पष्ट नहीं किया है। उन्होंने कहा कि एग्जिट पोल में जिस तरह से घमासान मचाने की कोशिश की गई है, यह एक तरह से अन्य बालाकोट की तैयारि है।

गौरतलब है कि एग्जिट पोल में भाजपा को एकतरफा जीत मिलने के बाद विपक्षी दलों ने ईवीएम पर सवाल उठाए हैं। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा है कि ईवीएम हेरफेर और बदलने का षडयंत्र रचा गया है। आम आदमी पार्टी ने भी कहा कि यह सब ईवीएम का खेल है। वरिष्ठ वकील प्रशांत भूषण ने संदेह व्यक्त किया है कि इस बार ईवीएम के साथ छेड़छाड़ नहीं की जा रही है, बल्कि उन्हें बदला जा रहा है। हालांकि, ईवीएम पर सवालों खड़े करने के बावजूद सभी पार्टीयां परिणामों की प्रतीक्षा कर रही हैं।