जानिये ADR द्वारा घोषित 17वीं लोकसभा सांसदों के कुछ खास आंकड़े


(Photo Credit : punjabkesari.in)

देश ने 17 वीं लोकसभा के लिए 542 सांसदों को चुन लिया है। नेशनल इलेक्शन वॉच और एडीआर द्वारा 17 वीं लोकसभा के 542 सांसदों में से 539 सांसदों के हलफनामे का विश्लेषण किया गया था, जिसमें कई महत्वपूर्ण जानकारी सामने आई। विश्लेषण से पता चला कि संसद की 542 सीटों में से 233 सांसद ऐसे हैं जिन पर आपराधिक मामले दर्ज किए गए हैं। एडीआर की रिपोर्ट के अनुसार, 542 में से 475 सांसद करोड़पति हैं।

आपराधिक मामलों वाले 233 सांसदों में 116 सदस्य सत्ताधारी दल भाजपा के हैं, जबकि कांग्रेस के 29 सांसदों पर आपराधिक मामले हैं। हालांकि, प्रतिशत के संदर्भ में,  भाजपा के 39 प्रतिशत और कांग्रेस के 57 प्रतिशत सांसद के खिलाफ अपराइदक मामले दर्ज हैं। जेडीयू इस मामले में 81% के साथ पहले स्थान पर है।

आपराधिक सांसदों की संख्या

पार्टी  सांसद  अपराधी  गंभीर अपराध 
भाजपा 301 116 87
कांग्रेस 51 29 19
DMK 23 10 6
TMC 22 9 4
जनता दल (यू) 16 13 8

भाजपा में सबसे ज्यादा करोड़पति सांसद

पार्टी सांसद करोड़पति सांसद
भाजपा  301 265
कांग्रेस 51 43
तृणमूल कांग्रेस 23 22
वाईएसआर कांग्रेस 22 19
शिवसेना 18 18

सबसे अमीर सांसद

नाम  राज्य  चुनाव का मैदान कुल संपत्ति
नकुलनाथ  मध्य प्रदेश छिंदवाड़ा  660 करोड़ रुपए 
एच वसंत कुमार  कर्णाटक कन्याकुमारी 417 करोड़ है
डीके सुरेश  कर्णाटक बेंगलुरु ग्रामीण  338 करोड़ 
  • ADR  का महत्वपूर्ण अध्ययन

-2019 में लोकसभा चुनाव में  – 77 (14%) महिला सांसद हैं । 2014 में महिला सांसदों की संख्या 11 थी। 
– निर्वाचित 194 (36%) सांसदों की औसत आयु 25 से 50 के बीच है, जबकि 343 (64%) की उम्र 51 से 80 वर्ष के बीच है। 2 सांसद ऐसे हैं जिनकी आयु 80 वर्ष से अधिक है। 
– 128 (24%) सांसदों की औसत शैक्षणिक योग्यता 5 से 12 वीं कक्षा है। 392 सांसद ग्रैज्युएट  या उससे ऊपर के हैं। एक सांसद ने खुद को अनपढ़ घोषित कर दिया है।