‘प्रियंका की नाक दादी जैसी होने मात्र से सत्ता मिल जाया करती, तो चीन के हर घर में राष्ट्रपति होता!’


(PC : Twitter/@IYC)

भाजपा नेता और केंद्रीय मंत्री मनसुख मांडविया की विवादित टिप्पणी

लोकसभा चुनाव प्रचार अब अपने उफान पर है। आरोप-प्रत्यारोप का दौर चल पड़ा है। आधिकारिक रूप से राजनीति में प्रवेश करने के साथ कांग्रेस महासचिव बनीं प्रियंका गांधी उत्तरप्रदेश में जोर-शोर से प्रचार कर रही हैं। सत्तारुढ़ भाजपा के नेता उनकी आलोचना करने का कोई मौका भी नहीं छोड़ रहे। इसी क्रम में गुजरात के भाजपा नेता और केंद्रीय मंत्री मनसुख मांडविया ने राज्य के आणंद में एक सभा को संबोधित करते हुए कहा है कि यदि प्रियंका गांधी वाड्रा की शक्ल-सूरत पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी से मिलती है, तो इसका यह अर्थ नहीं निकलता कि वे इससे सत्ता पर काबिज हो जाएं। मांडविया ने कहा कि प्रियंका गांधी की नाक इंदिरा गांधी से मिलती है, इस प्रकार की काफी चर्चा होती है। लेकिन यदि इतने मात्र से सत्ता मिल जाया करती तो चीन में हर घर में राष्ट्रपति होता।

 

बता दें कि पिछले महीने भाजपा नेता हरीश द्विवेदी ने भी प्रियंका को लेकर व्यक्तिगत टिप्पणी की थी। उन्होंने कहा था कि प्रियंका गांधी दिल्ली में ‘जीन्स और टॉप’ पहनती हैं, लेकिन जब वे चुनाव प्रचार के लिये निकलती हैं तो ‘साड़ी पहनती हैं और सिंदुर लगाती हैं’।

अमेठी में पोस्टर वॉर

अमेठी में प्रियंका के विरोध में पोस्टर भी लग गये हैं जिनमें ५ साल बाद फिर से अमेठी को छलने आने संबंधी नारे लिखे हैं।

(PC : zeenews.india.com)

पार्टी ने कहा तो चुनाव जरूर लडूंगी : प्रियंका

गौरतलब है कि प्रियंका गांधी इन दिनों अपने भाई राहुल गांधी के संसदीय क्षेत्र अमेठी में प्रचार कर रही हैं। उन्होंने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि यदि पार्टी कहेगी तो वे चुनाव जरूर लड़ूंगी। प्रियंका ने पत्रकारों को बताया कि उन्होंने कार्यकर्ताओं से कहा है कि यह देश को बचाने का चुनाव है, इस चुनाव में यह बहुत महत्वपूर्ण है कि आप ठीक ढंग से प्रचार करें, आप घर-घर जाकर असलियत बताएं कि ये चुनाव इस देश को बचाने का चुनाव है। जब उनसे पूछा गया कि मेनका गांधी ने कहा है कि प्रियंका के आने से कोई असर नहीं होगा क्योंकि कांग्रेस के पैर जमीन पर हैं ही नहीं, इस पर प्रियंका का कहना था कि ये उनके विचार हैं।

 

योगी को कैसे पता जब चुनाव का समय नहीं होता मैं कहां जाती हूं!

अयोध्‍या जाने के सवाल पर प्रियंका ने कहा कि उन्होंने अभी अपना कार्यक्रम नहीं देखा है, संभवत: जहां भी मेरा भाई जाए मैं वहां जाउंगी। यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ द्वारा यह कहे जाने पर कि राहुल और प्रियंका केवल चुनाव के समय ही मदिरों में जाते हैं, प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा,

उन्हें कैसे पता कि मैं कहां और कब जाती हूं? वो कैसे जानते हैं कि जब चुनाव का समय नहीं होता तो मैं नहीं जाती?’

इससे पहले अमेठी के एक दिवसीय दौरे पर पहुंचीं प्रियंका ने ‘हमारा बूथ हमारा गौरव’ अभियान के तहत कांग्रेस के बूथ अध्यक्षों के साथ बैठक की। उन्होंने कहा, ”हम गांवों में जाएं और भाजपा की जुमलेबाजी का जवाब दें। लोगों को सच्चाई बताएं। सरकार की नाकामियां बतायें। जब तक हम लोग इन बातों को लेकर जनता के बीच नहीं जाएंगे तब तक लोगों को सच्चाई का पता नहीं लगेगा।”

प्रियंका ये बैठकें विधानसभा क्षेत्रवार कर रही हैं। अमेठी विधानसभा के बूथ अध्यक्षों से बात करते हुए प्रियंका ने यह जानने की कोशिश की कि हम कैसे बूथ तक पहुंच बना सकते हैं। कांग्रेस वहां कैसे मजबूत होगी। प्रियंका ने कहा कि देश में सब कुछ कांग्रेस ने किया है।
उन्होंने कहा,

दियासलाई से लेकर मिसाइल तक बना कर देने का काम कांग्रेस ने किया है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी तो केवल विश्व का भ्रमण कर रहे हैं। देश का किसान परेशान है। ना तो उसे खाद मिल रही है और ना ही उत्पाद का सही दाम।”

कांग्रेस महासचिव ने कहा कि 2014 में मोदी ने सबके बैंक खाते में 15 लाख रुपए भेजने का वादा किया था लेकिन आज तक किसी के खाते में पैसा नहीं गया। प्रियंका ने कहा कि हम जो कहते हैं, वह करते हैं। हमने कहा था कि किसानों का कर्ज माफ करेंगे तो हमने राजस्थान में किया। केंद्र में कांग्रेस की सरकार बनने पर किसानों का कर्जा माफ करेंगे। उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी ने गरीब परिवारों को हर साल 72000 रुपये देने का वादा किया है। उसे हम पूरा करके दिखाएंगे।