जस्टिस रंजन गोगोई ने भारत के प्रधान न्यायधीश के रूप में शपथ ली


राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद जस्टिस रंजन गोगोई को भारत के प्रधान न्यायाधीश के रूप में शपथ दिलाते हुए। (Photo: IANS/RB)

नई दिल्ली| जस्टिस रंजन गोगोई ने बुधवार को भारत के प्रधान न्यायधीश के रूप में शपथ ली।

गोगोई को राष्ट्रपति भवन में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने शपथ दिलाई।

वह मुख्य न्यायधीश दीपक मिश्रा के बाद भारत के 46वें प्रधान न्यायधीश बने हैं।

दीपक मिश्रा का कार्यकाल दो अक्टूबर को समाप्त हो गया था और सोमवार को शीर्ष अदालत में उनके कार्यकाल का आखिरी दिन था।

जस्टिस गोगोई (64) सर्वोच्च अदालत में शीर्ष स्थान हासिल करने वाले पूर्वोत्तर भारत के पहले न्यायधीश हैं।

वह 17 नवंबर 2019 तक 13 महीने 15 दिनों तक के लिए कार्यभार संभालेंगे।

भारत के प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई के पदारुढ़ होने के बाद सामूहिक तस्वीर में (दांये से बांए) केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई और निवर्तमान प्रधान न्यायाधीश दीपक मिश्रा।(Photo: IANS/RB)

–आईएएनएस