कांग्रेस बताए- वो भारत की टीम में है, या पाक परस्तों की टीम में : नरेंद्र मोदी


प्रधानमंत्री ने इटारसी में होशंगाबाद-नरसिंहपुर लोकसभा क्षेत्र से राव उदयप्रताप सिंह के समर्थन में आयोजित सभा को संबोधित किया।
Photo/EMS

प्रधानमंत्री ने कहा-कांग्रेस का एक ही मंत्र ‘साथ आओ और मलाई खाओ’

इटारसी । कांग्रेस के एक बयानवीर यहां आकर कह रहे थे कि मोदी को ऐसा छक्का मारो कि वो सीमा पार जाकर गिरे। कांग्रेस के लोग मुझसे इतनी नफरत करते हैं कि वो मुझे मारने की बात करने लगे हैं। लेकिन वो भूल रहे हैं कि मोदी की तरफ से पूरे देश की, पूरे मध्यप्रदेश की जनता बैटिंग कर रही है। अब कांग्रेसियों को यह बताना चाहिए कि वो किसकी टीम से खेल रहे हैं। भारत की टीम से या पाकिस्तान परस्तों की टीम से। यह बात बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इटारसी में होशंगाबाद-नरसिंहपुर लोकसभा क्षेत्र से भाजपा उम्मीदवार राव उदयप्रताप सिंह के समर्थन में आयोजित सभा को संबोधित करते हुए कही। उन्होंने कहा कि आतंकवादियों की पैरवी करने वाले लोग कितनी ही कोशिश कर लें, लेकिन भारत की जनता कह रही है कि आएगा तो मोदी ही।

देर से आया हूं, पर खाली हाथ नहीं आया

प्रधानमंत्री श्री मोदी ने अपने संबोधन की शुरुआत नर्मदे हर से की। उन्होंने कहा कि मैं फरवरी में भी यहां आने वाला था, लेकिन पुलवामा हमले के कारण मेरा आना टल गया था। अब मैं कुछ देर से आया हूं, लेकिन आपके सामने खाली हाथ नहीं आया हूं। हमने आतंक के सरपरस्तों को उनके घर में घुसकर मारा है। उन्हें ऐसा घाव दिया है कि न उनसे बताते बन रहा है, न छिपाते बन रहा है। उन्होंने कहा कि भारत ने ये कार्रवाई इतनी ताकत से की है कि सारी दुनिया में इसकी चर्चा है। श्री मोदी ने कहा कि इस कार्रवाई के बाद खुलेआम ट्रेनिंग लेने वाले आतंकी अब पाताल में छुप गए हैं। मोदी के नाम से ही पाकिस्तान की नींद उड़ गई है और मोदी को किस तरह रोका जाए, इसके लिए आतंक के आका दुआएं मांग रहे हैं।

देश विरोधी हरकतों पर उतर आई कांग्रेस

श्री मोदी ने कहा कि आप लोग सोच रहे होंगे कि कांग्रेस कैसे गलत लाइन-लैंथ पर बॉल डाल रही है, क्यों नो बॉल डाल रही है। लेकिन ये आपका भ्रम है। कांग्रेस एक सोची-समझी रणनीति पर काम कर रही है। कांग्रेस ने अपने ढकोसला पत्र में कहा है कि कश्मीर से सेना हटाएंगे, सैनिकों को अधिकार देने वाले कानून को खत्म करेंगे। कांग्रेस के साथी कह रहे हैं कि कश्मीर का अलग प्रधानमंत्री हो। कांग्रेस क्या चाहती है, किस तरह की देश-विरोधी हरकतों पर उतर आई है।

जो धमाके कराता है उसे दिग्गी कंधे पर बैठाते हैं

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि श्रीलंका में विस्फोट की घटना के बाद वहां की सरकार ने जाकिर नाइक के चैनलों पर रोक लगा दी। ये वही जाकिर नाइक हैं, जिनके दरबार में जाकर दिग्गी राजा उसकी तारीफ करते हैं, कांग्रेस के दरबारी जाकिर नाइक को शांति दूत बताते हैं। इतना ही नहीं, कांग्रेस की सरकार ने तो जाकिर नाइक को देश के पुलिस अफसरों को आतंकवाद पर लेक्चर देने के लिए आमंत्रित किया था। उन्होंने कहा कि जिस व्यक्ति के शब्द श्रीलंका में धमाके कराते हैं, हमारे यहां दिग्गी राजा उसे कंधों पर बिठाते हैं। प्रधानमंत्री ने पूछा कि क्या आप लोग जाकिर नाइक को कंधों पर बिठाने वालों को माफ करेंगे? उन्होंने कहा कि देश और प्रदेश की जनता इन्हें माफ नहीं करेगी, बल्कि चुन-चुनकर बदला लेगी।

कांग्रेस का मंत्र साथ आओ, मलाई खाओ

श्री मोदी ने कहा कि ये देश उसी की कद्र करता है, जो काम करता है। यही हमारी संस्कृति है और यही हमारे संस्कार हैं। लेकिन कांग्रेस के लोग कहते हैं क्या जरूरत है काम की, जब छाप है बस नाम की। उन्होंने कहा कि कांग्रेस का मंत्र है साथ आओ, मलाई खाओ। यही उसकी राजनीति का आधार भी है। उन्होंने कहा कि लेकिन अब कांग्रेस अपने ही मकड़जाल में उलझती जा रही है।

चार महीनों में प्रदेश को तबाह कर दिया

प्रधानमंत्री श्री मोदी ने कहा कि कांग्रेस 10 दिनों में कर्जमाफी की बात पर लोगों के वोट लिए थे, लेकिन कर्जमाफी हुई नहीं और किसानों को बैंकों के नोटिस आने लगे। कांग्रेस की सरकार ने 4 महीनों में प्रदेश को तबाह कर दिया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने बिजली के बिल हॉफ करने की बात कही थी, लेकिन सरकार बनने के बाद बिजली की सप्लाई ही साफ कर दी। ये खुद कुछ करते नहीं, केंद्र सरकार किसानों के खातों में जो राशि डालना चाहती है, उसमें भी अड़ंगा लगा रहे हैं। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार छोटे किसानों, मजदूरों, छोटे दुकानदारों को 60 वर्ष की उम्र के बाद पेंशन देगी। उनके बुढ़ापे की चिंता हम करेंगे।

वंशवाद और भ्रष्टाचार में ईमानदार है कांग्रेस

श्री मोदी ने कहा कि कांग्रेस बेईमानी करने के लिए मशहूर है, लेकिन दो बातों में ईमानदार है। इनमें से एक है वंशवाद और दूसरा भ्रष्टाचार। कांग्रेस ये दोनों ही काम बड़ी ईमानदारी से करती है। प्रदेश की कांग्रेस सरकार उस पैसे को डकार गई, जो इस चौकीदार ने प्रदेश की गर्भवती और प्रसूता महिलाओं, कुपोषित बच्चों के लिए भेजा था। उस पैसे को नामदार का चेहरा चमकाने के लिए दिल्ली के तुगलक रोड भेज दिया। उन्होंने पूछा कि क्या आप महिलाओं, बच्चों का पैसा डकारने वालों को माफ करेंगे? श्री मोदी ने कहा कि कांग्रेस की एक और संस्कृति योजनाओं को लटकाने की रही है। इन्होंने कई सालों से देश की 100 सिंचाई योजनाएं लटका कर रखी थी, जिनमें से 14 मध्यप्रदेश की थी। शिवराज सरकार के सहयोग से हमने 10 को पूरा कर दिया। अगर प्रदेश की सरकार साथ देगी, तो बाकी को भी जल्द पूरा कर देंगे। उन्होंने कहा कि कांग्रेस को समय की कीमत नहीं, लेकिन हम समय का मूल्य समझते हैं।

हमारी सरकार ने पूरी ताकत से काम किया

श्री मोदी ने कहा कि इटारसी देश का सबसे बड़ा जंक्शन है, इसलिए आप जानते होंगे। हमारी सरकार ने दोगूनी रफ्तार से पटरियां बिछाने और इलेक्ट्रिफिकेशन का काम किया। सभी स्टेशनों पर एलईडी बल्ब लग गए हैं। देश में ही बनी सबसे तेज ट्रेन वंदे भारत पटरियों पर दौड़ रही है और जल्द ही देश के अन्य हिस्सों में भी दौड़ेगी। उन्होंने कहा कि देश के इन्फ्रास्ट्रक्चर और लोगों के जीवन स्तर को ऊपर उठाने के लिए हमारी सरकार पूरी ताकत से काम कर रही है। 2022 तक हम गरीब को पक्का मकान देंगे। माताओं, बहनों को गैस कनेक्शन और गरीबों को शौचालय उपलब्ध कराए हैं। हमने गरीबों के इलाज के लिए आयुष्मान भारत योजना शुरू की है, जिसमें 5 लाख तक का इलाज मुफ्त होगा।

आपका एक वोट करेगा आतंक का खात्मा

श्री मोदी ने कहा कि कांग्रेस नामदारों की नई पीढ़ी को मजबूत बनाने का काम कर रही है और हम देश की मजबूती के लिए काम कर रहे हैं। उन्होंने गठबंधन की चर्चा करते हुए कहा कि ऐसे नेता भी प्रधानमंत्री बनने का दावा कर रहे हैं, जिनकी पार्टी 8 सीटों पर चुनाव लड़ रही है। श्री मोदी ने कहा कि गठबंधन में शामिल चेहरों को याद करिए और बताइये कि इनमें से कौन आतंकवाद को खत्म कर सकता है, कौन आतंकियों से भिड़ सकता है, कौन उनको घर में घुसकर मार सकता है? जनता ने जब इसका जवाब मोदी-मोदी कहकर दिया, तो प्रधानमंत्री ने कहा कि मोदी नहीं, आपका एक वोट ही आतंक को खत्म कर सकता है। आपका एक वोट इस चौकीदार को मजबूत बनाता है। उन्होंने कहा कि चौकीदार को ताकत देने के लिए कमल का बटन दबाइये, आपका वोट सीधे मोदी के खाते में आएगा।

जब जब बिजली जाएगी, मामा की याद आएगी

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के पहले मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि कांग्रेस की कमलनाथ सरकार किसानों के दो लाख रुपये तक के कर्ज माफ करने के वादे के साथ सत्ता में आई थी। आप बताओ किसी भी किसान के दो लाख रुपये माफ हुए क्या ? प्रदेश में बिजली की स्थिति खराब हो चुकी है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में जब जब भी बिजली आएगी, आपको मामा की याद जरूर आएगी।

उन्होंने कहा कि जब कभी आपके ऊपर प्राकृतिक आपदा आती थी, आपका मामा आपके खेत में ही हेलीकॉप्टर से उतर जाता था। अब कमलनाथ दादा तो दिखते ही नहीं है। किसान परेशान हैं। उनका गेहूं बिक नही रहा है। अनाज तुल नहीं रहा है। किसान केंद्रों पर गर्मी और धूप में पड़े हैं। हमारी भावान्तर योजना इस सरकार ने बंद कर दी। प्रदेश सरकार किसानों की सुन नहीं रही है। गरीबों का निवाला तक यह सरकार ने छीन लिया है। अब तो केवल तबादला उद्योग चल रहा है। भारतीय जनता पार्टी की सरकार के दौरान प्रसूति के लिए राशि मिलती थी, कांग्रेस सरकार ने यह राशि भी देनी बंद कर दी। हादसों में यदि किसी की मौत होती थी तो सरकार 4 लाख रुपये देती थी। मृत्यु होने पर सरकार अंतिम संस्कार के लिए 5 हजार रुपये देती थी। कमलनाथ सरकार ने गरीबों का कफन तक छीन लिया है।

मोदी जी के नाम के आगे फीकी पड़ गई धूप

संसदीय क्षेत्र के इटारसी के रेलवे ग्राउंड का नजारा देखकर किसी को भी यह समझने में मुश्किल नहीं होती कि मोदी जी जितने लोकप्रिय हैं, उनका नाम भी उससे कम प्रभावी नहीं है। तेज गर्मी और धूप के बावजूद गांव और शहर से आए लोग, महिलाएं, बच्चे और युवा घंटों अपने लोकप्रिय प्रधानमंत्री मोदी जी का इंतजार करते रहे।

चिलचिलाती धूप और 45 डिग्री के आसपास तापमान की परवाह न करते हुए हजारों लोग बुधवार को रेलवे ग्राउंड पर सिर्फ इसलिए घंटों पसीना पोंछते हुए इंतजार करते रहे, क्योंकि उनके लोकप्रिय नेता नरेंद्र मोदी आ रहे हैं। लोगों में उनको सुनने की उत्सुकता, सभा स्थल पर लग रहे “मोदी-मोदी” के नारे, मोदी जी के मुखोटे पहने लोग, भगवा रंग के परिधान और दुपट्टे ओढ़े हुए महिलाएं, बच्चे और जवान, हाथों में लहराते हुए भाजपा के झंडों को देखकर यह सहज ही समझा जा सकता है कि वर्तमान दौर में मोदी जी किस कदर लोगों के दिलो-दिमाग पर छाए हुए हैं। दोपहर 3 बजे सूचना आती है कि मोदी जी को आने में कुछ देरी हो सकती है, लेकिन सभा स्थल की तरफ लोगों का आना पूर्ववत जारी रहा और पहले से बैठे हुए लोगों के चेहरों पर बेचैनी का कोई भाव नहीं। मंच से स्थानीय नेता भाषण देते रहे। लोग मोदी-मोदी के नारे लगाते रहे, सेल्फी लेते रहे और सभास्थल का लाइव वीडियो अपलोड करते रहे। मोदी जी के आने के पहले ही पूरा वातावरण मोदीमय हो चुका था। विपक्षी नेताओं द्वारा लगातार किए जा रहे दुष्प्रचार और मौसम के तीखे तेवरों के बावजूद उमड़ा यह जनसैलाब बहुत कुछ कह रहा था।

– ईएमएस