आईएसआई की सीमा पर सुरक्षा बलों को निशाना बनाने की साजिश उजागर


पाक की खुफिया एजेंसी आईएसआई लाइन ऑफ कंट्रोल (एलओसी) और अंतरराष्ट्रीय सीमा से सुरक्षा बलों को निशाना बनाने की साजिश उजागर हुई है।
Photo/Twitter

नई दिल्ली। पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई लाइन ऑफ कंट्रोल (एलओसी) और अंतरराष्ट्रीय सीमा से सुरक्षा बलों को निशाना बनाने की साजिश उजागर हुई है। इसके लिए वह पैसा भी जमकर खर्च कर रही है। खुफिया सूत्रों ने बताया कि आईएसआई और पाक आर्मी ने सुरक्षा बलों को निशाना बनाने के लिए खास तरीके की स्नाइपर गोलियां खरीदी हैं। यह गोलियां स्टील की बताई जा रही हैं। सूत्रों के अनुसार पाकिस्तान को ऐसी गोलियां गुपचुप तरीके से मुहैया कराई जा रही हैं।

भारतीय सुरक्षा एजेंसियों ने पाकिस्तान की इसी खरीदारी का के1 इंटरसेप्ट के जरिए खुलासा किया है। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई बोस्निया और बेल्जियम से करीब एक लाख राउंड स्नाइपर गोलियां खरीद रहा है जो कि खास तरीके से प्रशिक्षित आतंकवादियों और पाक आर्मी को मुहैया कराई जाएंगी।

खुफिया सूत्रों के मुताबिक पाकिस्तानी सेना 12.7×99 एमएम की स्टील बुलेट्स को सीमा पर अपने स्नाइपर को मुहैया करा रही है, जो करीब 1,800 मीटर दूर से अपने लक्ष्य को निशाना लगा सकते हैं। हालांकि, इन स्टील बुलेट से निपटने के लिए सुरक्षा बलों को खास तरीके के बुलेट प्रूफ जैकेट्स भी दिए जा रहे हैं जिससे इन स्टील बुलेट की घातक हमले के असर को कम किया जा सके। ज्ञात हो कि पाकिस्तान की सेना भारतीय सेना के जवानों को स्नाइपिंग के जरिए हताहत करने की कोशिश में लगी हुई है। 6 दिसंबर को पाकिस्तान की तरफ से उत्तरी कश्मीर में लाइन ऑफ कंट्रोल पर स्थित माछिल सेक्टर और जम्मू के सुंदरबनी इलाके में गोलीबारी की गई जिसमें जानकारी के मुताबिक पाक ने स्नाइपर शॉट दागे थे। इस हमले में 2 जवान भी शहीद हो गए थे।

– ईएमएस