गर्मी की छुट्टियों के लिए रेलवे ने चलाई 78 स्पेशल ट्रेनें


भारतीय रेलवे ने गर्मी में यात्रियों की भीड़ को देखते हुए ७८ विशेष ट्रेन चलाई हैं।

नई दिल्ली। भारतीय रेलवे ने गर्मी में यात्रियों की भीड़ को देखते हुए ७८ विशेष ट्रेन चलाई हैं। इनमें सबसे अधिक पूरब के लिए लिए ४० ट्रेन हैं। कुछ ट्रेनें तो १ मई से चलाई जा चुकी हैं, जबकि कुछ ट्रेनों को चलाया जाना है। विशेष ट्रेनें १० जुलाई तक चलेंगी। इसके अलावा रिजर्वेशन काउंटर पर यात्रियों को पीने का पानी, शौचालय व अन्य सभी बुनियादी सुविधाएं देने की भी रेलवे ने व्यापक तैयारी की है। रेलवे स्टेशन पर बार-बार विशेष ट्रेन की घोषणा की जा रही है। पीआरएस प्रणाली भी अपडेट की गई है। रेलवे ट्विटर हैंडल, फेसबुक आदि सोशल मीडिया के माध्यम से भी लोगों तक सूचनाएं पहुंचा रहा है। यूटीएस ऑनलाइन मोबाइल एप के अधिक से अधिक इस्तेमाल के लिए भी लोगों को जागरूक किया जा रहा हैं। रेलवे अधिकारियों के मुताबिक, रिजर्वेशन काउंटर पर अतिरिक्त कर्मचारियों की तैनाती की गई है। यात्री भी मांग पत्र को पूरी तरह भरकर रिजर्वेशन क्लर्क को दें और उस पर अपना पता जरूर लिखें। प्रत्येक रिजर्वेशन काउंटर पर एक वरिष्ठ अधिकारी स्थिति को नियंत्रित रखेगा।

दिल्ली मंडल स्टेशनों पर अतिरिक्त सुरक्षाकर्मियों की तैनाती की है। आरपीएफ व जीआरपी की एक संयुक्त टीम का गठन गया, जो केवल टिकट दलालों पर नजर बनाए हुए है। इसके अलावा टिकट स्थानांतरण पर भी नजर रखी जा रही है। रेलवे की सतर्कता टीम भी स्टेशनों पर नजर बनाए हुए है। दिल्ली मंडल में कॉमन लाइन प्रणाली लागू करने की तैयारी की जा रही है। इससे एक ट्रैक पर अप व डाउन लाइन (आने-जाने) पर किसी भी तरफ ट्रेन चल सकेगी। इससे आउटर पर ट्रेन को सिग्नल का इंतजार नहीं करना पड़ेगा।

दिल्ली मंडल के एक वरिष्ठ रेलवे अधिकारी का कहना है कि मंडल की तरफ से नई दिल्ली से साहिबाबाद रूट पर यह व्यवस्था लागे करने के लिए एक प्रस्ताव तैयार कर उच्च अधिकारियों को भेजा है। मंजूरी के बाद तुरंत इस पर काम शुरू कर दिया जाएगा। योजना के तहत, जिस दिशा में ट्रेन ज्यादा होंगी, उसके मुताबिक रेलवे लाइन का इस्तेमाल किया जा सकेगा। वर्तमान में सुबह के समय गाजियाबाद, साहिबाबाद से नई दिल्ली स्टेशन आने के लिए कई ट्रेन हैं, लेकिन इस समय नई दिल्ली से गाजियाबाद जाने के लिए ट्रेन नहीं हैं। शाम को नई दिल्ली से जाने वाली ट्रेन की संख्या अधिक होती है और वहां से आने वाली कम। ऐसे में इस नई योजना से सुबह दोनों लाइन पर साहिबाबाद से आने वाली ट्रेन की व्यवस्था की जाएगी।

– ईएमएस