सिर्फ 7 दिन में वाई-फाई से जुड़े देश के 500 रेलवे स्टेशन


महज 7 दिन में भारतीय रेलवे के 500 स्टेशन वाई-फाई से लैस हो गए हैं।
Photo/Twitter

नई दिल्ली। वैसे भारतीय रेल प्रणाली के लेट लतीफी के ‎लिए भी जानी जाती है। आमतौर पर यहां ट्रेनों की आवाजाही में देरी होती रहती है। ले‎किन लेकिन स्टेशनों के वाई-फाई से जुड़ने की स्पीड जानकार आप भी हैरान रह जाएंगे। महज 7 दिन में भारतीय रेलवे के 500 स्टेशन वाई-फाई से लैस हो गए हैं। इसके साथ ही साहिबाबाद रेलवे स्टेशन रेलवायर वाई-फाई सुविधा वाला 1500वां स्टेशन बना है। रेलवे मंत्रालय के तहत काम करने वाली मिनी रत्न कंपनी रेलटेल को देश के सभी स्टेशनों को वाई-फाई से लैस करने की जिम्मेदारी दी गई है।

4,791 रेलवे स्टेशनों पर इस सुविधा को उपलब्ध कराने के लिए रेलटेल ने टाटा ट्रस्ट के साथ भी समझौता किया है। ‘डिजिटल इंडिया’ पहल के तहत मोदी सरकार ने देश के सभी रेलवे स्टेशनों पर मुफ्त वाई-फाई सुविधा देने का वादा किया था। जनवरी 2016 में पश्चिम रेलवे के मुंबई सेंट्रल स्टेशन से हाई स्पीड गूगल वाई-फाई की शुरुआत हुई थी। बड़े स्टेशनों पर सुविधा देने के बाद अब छोटे स्टेशनों पर ध्यान कें‎द्रित ‎किया जा रहा है। इस सुविधा का इस्तेमाल स्मार्टफोन इस्तेमाल करने वाला कोई भी यात्री कर सकता है। स्टेशनों पर फ्री वाई-फाई का लाभ उठाने के लिए यात्रियों को अपने स्मार्टफोन में वाई-फाई ऑन करके रेलवायर वाई-फाई नेटवर्क को सेलेक्ट करना होगा। मोबाइल नंबर एंटर करने पर एक ओटीपी प्राप्त होता है और यह एंटर करते ही मोबाइल वाई-फाई नेटवर्क से जुड़ जाता है।

– ईएमएस