भारतीय वायुसेना ने अमेरिकी रिपोर्ट की खारिज, कहा- पाक के एफ-16 को हमने मार गिराया


भारतीय वायुसेना ने एक प्रमुख अमेरिकी पत्रिका के दावों को ‎सिरे से नकारते हुए कहा कि पाकिस्तानी वायुसेना के एक एफ-16 विमान को मार गिराया था।
Photo/Twitter

नई दिल्ली। भारतीय वायुसेना ने एक प्रमुख अमेरिकी पत्रिका के दावों को ‎सिरे से नकारते हुए एक बार फिर कहा कि उसने 27 फरवरी को हुई हवाई हमले के दौरान पाकिस्तानी वायुसेना के एक एफ-16 विमान को मार गिराया था। वायुसेना ने एक बयान में कहा, नौशेरा सेक्टर में हवाई झड़प के दौरान इं‎डियन एयरफोर्स के मिग 21 बाइसन विमान ने एक एफ-16 को मार गिराया था। दरअसल, एक पत्रिका ने गुरुवार को यह खबर प्रकाशित की कि पाकिस्तान के पास मौजूद एफ-16 विमानों की अमेरिका द्वारा की गई गिनती से यह पता चला है कि उनमें एक भी विमान कम नहीं है। भारतीय वायु सेना के सूत्रों ने यह भी कहा कि उसके पास वायरलेस पर सुनी गई बातचीत, सिग्नलों और एयरबॉर्न वार्निंग एंड कंट्रोल सिस्टम (अवाक्स) और इलेक्ट्रॉनिक हस्ताक्षरों के साथ ही यह साबित करने के लिये निर्णायक ‘परिस्थितिजन्य साक्ष्य’ हैं कि हवाई संघर्ष के दौरान एफ-16 विमान को मार गिराया गया। अपनी खबर में अमेरिकी पत्रिका ने कहा कि स्थिति के बारे में सीधी जानकारी रखने वाले दो वरिष्ठ अमेरिकी रक्षा अधिकारियों ने पत्रिका को बताया कि अमेरिकी कर्मियों ने हाल ही में पाकिस्तान के एफ-16 विमानों की गणना की और पाया कि सभी विमान मौजूद हैं।

गौरतलब है ‎कि यह खबर सीधे तौर पर भारतीय वायुसेना के अधिकारियों के उन दावों के विपरीत है, जिसमें उन्होंने कहा था कि विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान ने 27 फरवरी को हवाई झड़प में एक पाकिस्तानी एफ-16 विमान को मार गिराया था और इसके बाद उनका मिग-21 बाइसन विमान एक पाकिस्तानी मिसाइल के ‎निशाने पर आ गया था। वायुसेना के एक बयान में कहा गया, भारतीय बलों ने उस दिन दो अलग-अलग जगहों पर विमान से बाहर निकलते हुए देखा। यह दोनों ही जगह एक-दूसरे से आठ से 10 किलोमीटर दूर थीं। इनमें से एक आईएएफ मिग 21 बाइसन था और दूसरा पाक वायुसेना का विमान था। हमारे द्वारा जुटाए गए इलेक्ट्रॉनिक हस्ताक्षरों से संकेत मिलते हैं कि पाक वायुसेना का विमान एफ-16 था। गौरतलब है कि पुलवामा में 14 फरवरी को सीआरपीएफ के काफिले पर हुए आतंकी हमले के बाद भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान के बालाकोट में आतंकी प्रशिक्षण शिविरों पर बम गिराए थे। भारत की इस कार्रवाई के बाद दोनों देशों के लड़ाकू विमानों के बीच एक झड़प हुई थी जिसमें एक एफ-16 विमान को मार गिराया गया था।

– ईएमएस