पाकिस्तान को भारी पड़ा दुस्साहस : भारत ने मार गिराया F-16 लड़ाकू विमान, भारत का एक पायलट लापता


मंगलवार को भारत द्वारा पाकिस्तान में किये गये एयर स्ट्राईक के जवाब में बुधवार सुबह पाकिस्तान द्वारा भारत के सैनिक ठिकानों को निशाना बनाते हुए हवाई हमला किया गया, जिसे भारतीय वायु सेना ने त्वरित कार्रवाई के बाद नाकाम कर दिया। पाक विमानों ने जम्मू-कश्मीर के राजौरी सेक्टर में बम गिराये। लेकिन पाकिस्तान को यह दुस्साहस भारी पड़ा।

दोपहर बाद भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रविश कुमार ने प्रेस ब्रिफिंग में पाकिस्तान के हमले की पुष्टि की। उन्होंने कहा कि भारत ने मंगलवार को जो सैनिक कार्रवाई की थी वह एक काऊंटर टेरेरिज्म ऑपरेशन था और केवल आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के ट्रेनिंग कैंपों को निशाना बनाया गया था। पाकिस्तान के सैनिक या रिहायशी इलाकों से दूर कार्रवाई की गई थी। लेकिन बुधवार सुबह पाकिस्तान ने भारत के सैनिक ठिकानों को निशाना बनाया।

रविश कुमार ने कहा कि भारतीय वायु सेना पहले से सतर्क थी और उसने पाकिस्तान के हमले का माकूल जवाब दिया गया। हवाई संघर्ष के दौरान भारत ने पाकिस्तान का लड़ाकू विमान एफ-१६ मार गिराया। पाकिस्तान का नष्ट किया गया विमान पाकिस्तानी क्षेत्र में ३ किमी अंदर लाल घाटी, नोशेरा सेक्टर में गिरा। हमले के बाद जब पाकिस्तानी विमान गिर रहा था, तो हवा में पेराशूट दिखाई दिया। पायलट की स्थिति के विषय में फिलहाल जानकारी नहीं है।

वहीं रविश कुमार ने यह भी बताया कि उक्त हवाई संघर्ष में भारत का एक मिग २१ माइसन विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया। इस हादसे के बाद हमारा पायलट लापता है। प्रेस ब्रिफिंग के वक्त एयर वाईस मार्शल आरजीके कपूर भी मौजूद थे।

पाक ने किया स्पष्ट ः बडगाम में दुर्घटनाग्रस्त भारतीय जहाज से उसका लेना-देना नहीं

सूत्रों के अनुसार जम्मू-कश्मीर के बडगाम क्षेत्र में भारतीय वायु सेना का Mi-17 ट्रांसपोर्ट चोपर क्रेश हो गया। पुलिस ने बताया कि घटना स्थल से दो शव बरामद किये गये हैं। भारतीय वायु सेना की तकनिकी टीम मौका-ए-वारदात पर पहुंच चुकी है और जांच जारी है।

पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता आसिफ गफूर ने अपने बयान में कहा है कि भारत की सीमा में जो विमान दुर्घटनाग्रस्त हुआ है, उसमें पाकिस्तानी सेना का कोई हाथ नहीं है।

भारतीय जहाजों को निशाना बनाने के पाक के दावे को भारत ने नकारा

उधर पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल ए गफूर ने दावा किया कि पाकिस्तानी हवाई हमले के जवाब में भारतीय वायु सेना के विमानों द्वारा एलओसी पार करने पर २ भारतीय जहाजों को निशाना बनाया गया है। दावा किया गया कि एक जहाज पाक अधिकृत कश्मीर में और दूसरा भारत की वायु सीमा में गिरा। एक भारतीय पायलट को गिरफ्तार करने का भी दावा किया गया है।

लेकिन भारत के रक्षा सूत्रों के हवाले से समाचार संस्था पीटीआई ने खबर दी है कि पाकिस्तान की ओर से कार्रवाई में भारत के किसी लड़ाकू विमान को कोई नुकसान नहीं हुआ है।