चोकसी पर सरकार का पलटवार : खून करने वाला नहीं कहता कि हमने खून किया है!


नई दिल्ली । देश की पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) से 14 हजार करोड़ रुपए घोटाला मामले में मुख्य आरोपी मेहुल चोकसी ने दावा किया है कि वो बेगुनाह है और उसे पूरे मामले में बलि का बकरा बनाया गया। चोकसी के दावों पर केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा :

खून करने वाला कोर्ट में नहीं कहता कि हमने खून किया है। यूपीए के दौरान अनाप-शनाप लोन देकर बैंकों को कमजोर किया गया उसको हमारी सरकार ने खुलासा करके बड़े से बड़े लोगों को मजबूर किया है कि वो अपने लोन को चुकाए।

मेहुल चोकसी करीब 14 हजार करोड़ रुपये के पंजाब नेशनल बैंक घोटाले में एक मुख्य आरोपी है। इस मामले में चोकसी का भांजा नीरव मोदी और अन्य भी आरोपी हैं। ज्यादातर आरोपी भारत से फरार है। फिलहाल चोकसी एंटीगा में रह रहा है, जहां उसे नागरिकता मिल गई है। उसे भारत लाने के लिए सरकार लगातार कोशिश कर रही है।

मेहुल चोकसी का दावा, मैं बेगुनाह हूं, मुझे बनाया जा रहा है बलि का बकरा

सूत्रों के मुताबिक, गुआना में भारत के राजदूत ने एंटीगा के विदेश मंत्री से मुलाकात की है और एंटीगा को चोकसी के सीबीआई के प्रत्यर्पण की कॉपी भी दी है। जानकारी के मुताबिक, चोकसी ने कहा था :

ये एक बड़ी राजनीतिक साजिश है, ये पूरा मुद्दा राजनीतिक बन गया है। बैंक डिफॉल्टर को वापस लाने का सरकार के उपर भारी दबाव है। इस चुनाव में जो बैंक के डिफॉल्टर हैं उनमें से किसी एक को नहीं लाया जाएगा तो शायद चुनाव इधर से उधर हो सकता है। मैं सॉफ्ट टारगेट हूं।

चोकसी ने ईडी, सीबीआई और आयकर विभाग की कार्रवाई पर कहा कि पचास साल से कोई कंपनी बहुत अच्छा काम कर रही हो और अचानक एक साल के अंदर ये सब? अभी तो ये राजनीतिक दबाव है कि कहीं से मुझे लाना है।