गांधीनगर के अक्षरधाम हमले का आरोपी 16 साल बाद गिरफ्तार


अहमदाबाद क्राइम ब्रांच ने सोमवार को गुजरात के अक्षरधाम मंदिर पर आतंकी हमले के आरोपी मोहमद फारूक शेख को गिरफ्तार कर लिया है।
Photo/Twitter

अहमदाबाद। अहमदाबाद क्राइम ब्रांच ने सोमवार को गुजरात के अक्षरधाम मंदिर पर आतंकी हमले के आरोपी मोहमद फारूक शेख को गिरफ्तार कर लिया है। मोहमद फारूक शेख पिछले 16 साल से फरार चल रहा था। क्राइम ब्रांच ने मोहमद फारूक शेख को अहमदाबाद एयरपोर्ट के निकट से गिरफ्तार किया है।

Photo/Twitter

मोहमद को क्राइम ब्रांच ने उस वक्त धरदबोचा जब वह सऊदी अरब से अहमदाबाद पहुंचा। वह पिछले कई सालों से दुबई में रह रहा था और आज अपने रिश्तेदारों से मिलने अहमदाबाद एयरपोर्ट आया हुआ था। अहमदाबाद क्राइम ब्रांच पूर्व सूचना के आधार पर मोहमद फारूक शेख के सभी रिश्तेदारों के यहां निगरानी कर रही थी। 24 सितंबर 2002 को गुजरात की राजधानी गांधीनगर स्थित अक्षरधाम मंदिर परिसर में आतंकियों ने आत्मघाती हमला किया था। इस हमले में 32 श्रद्धालु मारे गए थे और 70 से ज्यादा लोग घायल हो गए थे। इसके अलावा तीन कमांडो और एक कांस्टेबल शहीद हुए थे। पोटा अदालत ने सभी आरोपियों को दोषी ठहराते हुए तीन को मौत की सजा और एक को आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी। गुजरात हाईकोर्ट ने निचली अदालत के इस फैसले पर मुहर लगाई थी लेकिन मई 2014 में सुप्रीम कोर्ट ने सभी दोषियों को आरोपमुक्त करते हुए बरी कर दिया। इस मामले की जांच करने वाली एजेंसी को लापरवाही बरतने के लिए कड़ी फटकार लगाते हुए शीर्ष अदालत ने कहा था कि आरोपियों को दोषी साबित करने के लिए पर्याप्त सबूत नहीं हैं। अभियोजकों ने दावा किया था कि आरोपियों में से कुछ के जैश ए मोहम्मद और लश्कर ए ताइबा जैसे आतंकी संगठनों से संबंध थे, लेकिन इसे वे अदालत में प्रमाणित नहीं कर पाए।

– ईएमएस