भगोंड़ा कारोबारी नीरव मोदी आना चाहता हैं भारत, लेकिन उस जान का खतरा


पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) के 13,500 करोड़ के घोटाला मामले में भगोड़े आरोपी हीरा कारोबारी नीरव मोदी ने भारत आने से इनकार कर दिया है।
Image credit : Facebook/niravmodijewels

मुंबई। देश के सबसे बड़े बैंक घोटालें का मुख्य आरोपी नीरव मोदी ने भारत वापस आने से इंकार कर दिया है। दरअसल पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) के 13,500 करोड़ के घोटाला मामले में भगोड़े आरोपी हीरा कारोबारी नीरव मोदी ने भारत आने से इनकार कर दिया है। प्रवर्तन निदेशालय के साथ मेल द्वारा हुई बातचीत में नीरव ने सुरक्षा कारणों का हवाला देते हुए सरेंडर करने से इनकार किया है।
भगोंड़े कारोबारी नीरव ने ईडी से कहा, मिल रही धमकियों और सुरक्षा कारणों से मैं भारत नहीं लौट सकता। मैंने होलिका दहन के दौरान खुद के पुतलों को लोगों द्वारा जलाते देखा है। उसने कहा कि उसके कर्मचारी (जिन्हें वेतन का भुगतान नहीं किया गया), मकान मालिक (जिनका किराया अभी देना बाकी है), उसके ग्राहक (जिनके गहने सीबीआई द्वारा जब्त कर लिए गए) और अन्य एजेंसियों व लोगों ने उस धमकी दी है। नीरव ने कहा कि इतनी धमकियों के बाद मैं भारत नहीं लौट सकता।

बता दें कि ईडी ने नीरव मोदी और उसके मामा मेहुल चौकसी के खिलाफ 24 और 26 मई को आरोप पत्र दाखिल किए थे। इसके बाद दोनों के खिलाफ गैरजमानती वारंट जारी किए गए हैं। इंटरपोल ने भी दोनों आरोपियों के खिलाफ रेड कार्नर नोटिस (आरसीएन) जारी किया है। वहीं प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के मुताबिक पीएनबी घोटाला मामले में अबतक भारत और विदेशों में 4,800 करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त की जा चुकी है। 13,500 करोड़ रुपये के पीएनबी घोटाले में इनके अलावा बैंक के कई अधिकारियों को भी आरोपी बनाया गया है। बता दें कि फरवरी में पीएनबी ने 14,000 करोड़ रुपये के बैंक घोटाले की रिपोर्ट दी जिसमें हीरा व्यापारी नीरव मोदी और उनके मामा मेहुल चौकसी मुख्य आरोपी हैं और दोनों फरार हैं।

नीरव को मदद पहुंचाने वाले प्रबंधक पर केस

इस पूरे मामले में केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) के पूर्व उप प्रबंधक गोकुलनाथ शेट्टी के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति का एक मामला दर्ज कर चुकी है। गोकुलनाथ ने भगोड़े हीरा व्यापारी नीरव मोदी व मेहुल चौकसी को 13,500 करोड़ रुपये का घोटाला करने में मदद की थी।

– ईएमएस