भगोड़े कारोबारी चौकसी ने दिया बीमारी का हवाला, 41 घंटे की फ्लाइट लेकर नहीं आ सकता भारत


भगोड़े हीरा कारोबारी मेहुल चौकसी ने कहा है कि वह फ्लाइट में 41 घंटे का सफर करके भारत नहीं आ सकता है।
Photo/Twitter

मुंबई। देश के सबसे बड़े बैंकिंग घोटाले को अंजाम देकर एंटीगा में बैठे भगोड़े हीरा कारोबारी मेहुल चौकसी ने कहा है कि वह फ्लाइट में 41 घंटे का सफर करके भारत नहीं आ सकता है। चौकसी को भगोड़ा आर्थिक अपराधी घोषित कराने के लिए प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट स्पेशल कोर्ट में एन्फोर्समेंट डायरेक्टोरेट द्वारा दायर याचिका के जवाब में अपने खराब स्वास्थ्य का हवाला देकर यह बात कही है। ईडी की याचिका को रद्द करने की मांग करते हुए चौकसी ने अपने जवाब में कहा है कि बकाया चुकाने के लिए वह पंजाब नैशनल बैंक के साथ संवाद कर रहा है।

चौकसी ने यह भी कहा कि कोर्ट को गुमराह करने के लिए ईडी ने जानबूझकर इस संवाद को पेश नहीं किया है। चौकसी ने स्पेशल जज एम एस आजमी के सामने सोमवार को वकील संजय अबॉट और राहुल अग्रवाल के जरिए जवाब पेश किया। ईडी ने भगोड़ा आर्थिक अपराधी कानून के तहत चौकसी को भगोड़ा आर्थिक अपराधी घोषित करने और उसकी संपत्तियों को जब्त करने के लिए याचिका दाखिल की है। चौकसी ने यह भी कहा है कि ईडी ने जानबूझकर उसकी कई संपत्तियों का मूल्य कम आंका है ताकि उसकी और अधिक संपत्तियों को अटैच कर सके। उसकी अटैच संपत्तियों की वैल्यू 89 से 537 करोड़ के बीच आंकी गई है।

गौरतलब है कि मेहुल चौकसी पंजाब नैशनल बैंक में 14 हजार करोड़ रुपये के घोटाले का आरोपी है। घोटाले से पर्दा उठने से पहले वह जनवरी में देश छोड़कर चला गया था। इसी केस में उसका भांजा नीरव मोदी भी आरोपी है।

– ईएमएस