समुद्री परिक्रमा पर निकले और लहरों में फंसे भारतीय नौसेना के अफसर को बचायेगा फ्रांसीसी जहाज ओरिसिस


Image | newsbharati.com

सूरत। पूरी दुनिया का समुद्री चक्कर लगाने निकले भारतीय नाविक अभिलाष टॉमी बीच दरिया में ऊंची लहरों के बीच फंस गये हैं। वे घायल भी हो गये हैं। अभिलाष भारतीय नौसेना के अधिकारी हैं और उन्हें बचाने के लिये भारतीय नौसेना के साथ-साथ गोल्डन ग्लोब रेस के फ्रांसीसी आयोजक भी भरसक प्रयास कर रहे है।

भारतीय नौसेना ने कहा है कि अगले १६ घंटे में फ्रांसीसी जहाज ओरिसिस अभिलाष तक पहुंच कर उन्हें सुरक्षित बचा लेगा।

अभिलाष घायल जरूर हैं, लेकिन अपनी स्थिति के बारे में वे लगातार रेस आयोजकों से संपर्क में हैं। उन्होंने अपने संदेश में यह भी कहा है कि वे चलने में अक्षम हैं और उन्हें स्ट्रेचर की जरूरत है।

बता दें कि गोल्डन ग्लोब रेस में प्रतियोगी को नाव के माध्यम से ३० हजार मील की समुद्री परिक्रमा अकेले करनी होती है। साथ ही इस रेस में किसी प्रकार की तकनिक के उपयोग की अनुमति नहीं है। केवल संचार के लिये आधुनिक यंत्रों का उपयोग किया जा सकता है।