मनमोहन सिंह को काला झंडा दिखाने वाला शख्स 14 साल बाद राहुल गांधी का सलाहकार बना


( Photo Credit : the

दिल्ली के जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) के छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष संदीप सिंह ने वामपंथियों का साथ छोड़ने तथा कांग्रेस में शामिल होने का फैसला किया है।

कहा जाता है कि वह पिछले डेढ़ साल से कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के साथ जुड़े हुए हैं। ऐसा माना जाता है कि वह राहुल गांधी के राजनीतिक सलाहकारों में शामिल हैं और उनके लिए लिखते हैं। राज्यों में छोटे दलों के साथ गठबंधन के लिए भी संदीप सिंह महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं।हालांकि, कांग्रेस पार्टी ने संदीप सिंह को अब तक पार्टी में कोई पद नहीं दिया है।

2005 में जब प्रधान मंत्री मनमोहन सिंह जेएनयू के एक कार्यक्रम में पहुँचे तब संदीप सिंह ने उन्हें काले रंग के पट्टे दिखा कर उनका विरोध किया था।

(Photo Credit : jansatta.com)

एक रिपोर्ट के अनुसार, वर्तमान दिनों में कांग्रेस के भीतर संदीप सिंह की पहुंच बढ़ रही है। संदीप सिंह को कांग्रेस महासचिव और पूर्व यूपी की प्रमुख प्रियंका गांधी की मदद के लिए पसंद किया गया है। वह प्रियंका गांधी के साथ यूपी प्रवास को भी करीब से देख रहे हैं।

राजनीतिक विश्लेषकों का कहना है कि कांग्रेस की नीतियों का विरोध करने वाले संदीप सिंह को पता भी नहीं चला कि वे कब कांग्रेस के नज़दीक पहुँच गए। कांग्रेस के सूत्रों के अनुसार, संदीप सिंह 2017 से राहुल गांधी के आसपास दिखाई देने लगे। मात्र दो साल के भीतर वह राहुल और प्रियंका गांधी के सलाहकार के रूप में पहुंचने में सफल रहे।