कांग्रेस राफेल ‘घोटाले’ पर फिर गई सीएजी के पास


(Photo: IANS)

नई दिल्ली। कांग्रेस गुरुवार को फ्रांस के साथ रक्षा सौदे में लगे आरोपों के बीच दूसरी बार राफेल लड़ाकू विमान सौदे का ऑडिट कराए जाने को लेकर भारत के नियंत्रक एवं महालेखापरीक्षक (सीएजी) के पास गई।

पूर्व केंद्रीय मंत्री जयराम रमेश और आनंद शर्मा की अगुवाई में पार्टी प्रतिनिधियों ने सीएजी से मुलाकात की और नए दस्तावेज सौंपे, जिसमें उनके दावे के अनुसार, फ्रांस से 36 राफेल विमान खरीदे जाने का जिक्र है। पार्टी ने मामले की फोरेंसिक ऑडिट कराए जाने की अपने मांग को लेकर दस्तावेज सौंपे।

शर्मा ने बैठक के बाद कहा, “हम नई जानकारियों और राफेल सौदे के खुलासे के साथ सीएजी से मिले। इस मामले में अभी और खुलासे होने वाले हैं।”

कांग्रेस ने इससे पहले 19 सितंबर को इस बाबत सीएजी से मुलाकात की थी। पार्टी ने उस दौरान कई कथित अनियमितताओं के विवरण वाला एक ज्ञापन सौंपा और दावा किया कि इससे राजकोष को भारी नुकसान हुआ और देश की सुरक्षा के साथ समझौता किया गया।

मामले की जांच करवाने को लेकर कांग्रेस केंद्रीय सतर्कता आयोग (सीवीसी) के पास भी गई थी और इस संबंध में एफआईआर दर्ज करवाया था। पार्टी ने सीवीसी से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा ‘एकतरफा’ सौदे की घोषणा से संबंधित दस्तावेज को जब्त करने की मांग की थी।

-आईएएनएस