क्रिसमस पर शीत लहर ने सैलानियों को किया निराश, मनाली में पारा शून्य से नीचे आया


मशहूर पर्यटक स्थल मनाली में तापमान शून्य से नीचे 3.2 डिग्री सेल्सियस रहा जिसके चलते पर्यटकों होटलों में ही बंद रहना पड़ा।
Photo/Twitter

शिमला। क्रिसमस पर कड़ाके ठंड और शीतलहर के चलते पहाड़ों की रानी हिमाचल में सैलानियों को निराशा हाथ लगी मशहूर पर्यटक स्थल मनाली में तापमान शून्य से नीचे 3.2 डिग्री सेल्सियस रहा जिसके चलते पर्यटकों होटलों में ही बंद रहना पड़ा। वहीं शीत लहर का प्रकोप और बढ़ने से केलांग में तापमान शून्य से नीचे 9.4 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया। यह तापमान सोमवार शाम साढ़े पांच बजे से मंगलवार सुबह साढ़े आठ बजे के बीच दर्ज किया गया। शिमला के मौसम विज्ञान विभाग के निदेशक मनमोहन सिंह ने कहा कि कल्पा, सोलन, भुंतर, सुंदरनगर और सोबघ में भी तापमान शून्य से नीचे रहा।

जनजातीय लाहौल और स्पीति जिले का प्रशासनिक केंद्र केलांग राज्य का सबसे ठंडा स्थान रहा। सिंह ने बताया कि कल्पा में तापमान शून्य से नीचे 4.6 डिग्री सेल्सियस, सोबघ में शून्य से नीचे 1.7 डिग्री सेल्सियस, भुंतर में शून्य से नीचे एक डिग्री सेल्सियस, सुंदरनगर में शून्य से नीचे 0.7 डिग्री सेल्सियस और सोलन में तापमान शून्य से नीचे 0.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। राज्य की राजधानी शिमला में तापमान 1.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। उन्होंने बताया कि कुफरी में तापमान 0.8 डिग्री सेल्सियस और डलहौजी में 1.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

– ईएमएस